Home > Crime > रेप के आरोपी को जेल से निकाल कर मार डाला

रेप के आरोपी को जेल से निकाल कर मार डाला

Killed out of jail accused of rapeदीमापुर – नागालैंड के दीमापुर में दस हजार लोगों की भीड़ ने रेप के एक आरोपी को जेल से निकालकर मार डाला। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस ने हवाई फायर भी किए जिसमें करीब 20 लोग घायल हो गए हैं। गुरुवार को हुई इस घटना में भीड़ ने पुलिस की कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। घटना के बाद दीमापुर में हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। भीड़ ने जिस आरोपी की हत्या की वह असम का रहने वाला था। रेप की घटना के बाद यहां के स्थानीय लोगों का दूसरे राज्यों से आए लोगों के प्रति गुस्सा काफी बढ़ गया है और कल जुलूस के दौरान बाहर से आए व्यापारियों की करीब 20 दुकानें फूंक दी गईं। इधर, पुलिस की फायरिंग में घायल एक प्रदर्शनकारी की शुक्रवार को मौत हो गई, वहीं चार अन्य की हालत गंभीर बताई जा रही है।

इस घटना पर स्वतः संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से इस संबंध में पूरी रिपोर्ट मांगी है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ”जरूरी निर्देश दिए जा चुके हैं, जरूरत पड़ने पर अतिरिक्त बल भेजे जाएंगे।”

ये है मामला
पुलिस ने आरोपी का नाम सैयद फरीद खान बताया है, वह पुरानी कारों का व्यापारी था। खान असम से यहां आया था और मूल रूप से बांग्लादेश का नागरिक था। आरोप है कि उसने पिछले महीने की 23 तारीख को एक नागा लड़की से कई बार रेप किया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था लेकिन इस घटना के बाद दूसरे राज्यों से आए लोगों के प्रति दीमापुर के स्थानीय लोगों में बेहद गुस्सा था। दीमापुर एसपी मेरेन जमीर ने बताया कि गुरुवार को नाराज लोगों ने पहले तो एक जुलूस निकाला और उसी दौरान उन्होंने दूसरे राज्यों से आए व्यापारियों की करीब 20 दुकानों को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद भीड़ नगर निगम के दफ्तर पहुंची और वहां उन्होंने मांग रखी कि दीमापुर में बिजनेस कर रहे सभी बांग्लाभाषी मुसलमानों के ट्रेड लाइसेंस रद्द किए जाएं।

रेप से आक्रोशित भीड़ ने दीमापुर सेंट्रल जेल पर हमला कर वहां से आरोपी को बाहर खींच लिया। उसे स्कूटर से बांधकर खींचा गया और एक चौराहे पर लाकर बुरी तरह पीटा गया। पुलिस ने आरोपी को बचाने की कोशिश जरूर की लेकिन भीड़ बहुत ज्यादा थी। जैसे-तैसे आरोपी को अस्पताल लाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सूत्रों ने बताया है कि भीड़ इस आरोपी को चौराहे पर फांसी देना चाहती थी लेकिन ऐसा करने में वह विफल रही। पुलिस मामले की जांच कर रही है और उसे आशंका है कि जेल पर भीड़ के हमले के दौरान कुछ कैदी फरार भी हो गए हैं।

नागालैंड की घटना पर बीजेपी ने कहा कि रेप की घटनाओं को लेकर लोगों में गुस्सा है। इस घटना से साफ पता चलता है कि समाज में लोग अब इस प्रकार की घटना नहीं सहेंगे। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएलएन राव ने नागालैंड की घटना पर कहा, ”इस प्रकार की घटना लोगों की भावना को दिखाती है कि रेप के मामलों को लेकर लोग कितने गुस्से में हैं। निर्भया डॉक्युमेंट्री ने लोगों की भावना को और बल प्रदान किया। हालांकि, हम इस प्रकार हिंसक भीड़ के फैसले को स्वीकार नहीं कर सकते। यह मीडिया और प्रशासन के लिए एक संदेश है।”

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .