Home > 18+ News Adult > सनी लियोन नहीं चाहतीं पोर्न बैनर उनसे जुदा हो !

सनी लियोन नहीं चाहतीं पोर्न बैनर उनसे जुदा हो !

Sunny Leoneबॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोन के पुराने पोर्न स्टार वाले बैनर को लेकर बॉलीवुड के तमाम ऐक्टर, निर्देशक और निर्माता सनी लियोनी के पक्ष में खड़े होते जा रहे हैं लेकिन लेखक-गीतकार प्रसून जोशी ने साफ कहा है कि वह इस पोर्न स्टार के पेशे के हक में नहीं हैं। आपको बता दें सनी का पूरी तरह पोर्न इंडस्ट्री से नाता नहीं टुटा है वे अब भी पोर्न वेबसाइट चलाती हैं। पोर्न फिल्मों का उनका बैनर है। वह वेबसाइटों के जरिए एडल्ट उत्पाद बेचती हैं। जिससे लगता है कि पोर्न शब्द सनी लियोन के नाम जुदा नहीं होगा या शायद सनी लियोन नहीं चाहतीं पोर्न बैनर उनसे जुदा हो !

के पोर्न स्टार वाले काम को लेकर गीतकार-लेखक प्रसून जोशी कहते हैं कि हमारी संस्कृति इजाजत नहीं देती कि उनकी बेइज्जती करें, लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि हम उनके पेशे की आलोचना भी न करें।

वहीँ मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में लगातार कहा जा रहा है कि सनी लियोनी का क्या अतीत रहा है या वह क्या पेशा करती हैं, इससे लोगों को कोई मतलब नहीं होना चाहिए।

इसी पर बीते सोमवार को मुंबई में एक कार्यक्रम में गीतकार, स्क्रिप्ट लेखक और एड-गुरु प्रसून ने साफ कहा, ‘किसी की प्रोफेनशल चॉइस (पेशेगत चुनाव/पसंद) पर भी आप टिप्पणी कर सकते हैं क्योंकि कोई जरूरी नहीं कि कोई व्यवसाय बहुत अच्छा हो। अगर कोई व्यवसाय अच्छा नहीं है तो उसकी निंदा भी होनी चाहिए।’

सनी लियोनी जब प्रसून जोशी की टिप्पणी के बारे में सुना तो उन्होंने चौंकाने वाला जवाब दिया। उन्होंने कहा कि वह नहीं जानती कौन प्रसून जोशी। वह घर जाकर प्रसून जोशी के नाम को गूगल पर ढूंढ़ेंगी। यह कहते हुए वह पूरी तरह से टाल गईं और अप्रत्यक्ष रूप से प्रसून पर करारा कटाक्ष किया।

ज्ञात रहे कि जब प्रसून जोशी सनी लियोनी पर टिप्‍पणी कर रहे थे तब वहां आमिर खान भी मौजूद थे। एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि क्या वाकई वह सनी के साथ किसी फिल्म काम करना चाहेंगे। (आमिर ने पिछले दिनों सनी के साथ काम करने संबंधी ट्वीट किया था)। तब आमिर ने कहा कि सनी एक महिला हैं, इस नाते वह उनका सम्मान करते हैं और यकीकन उनके साथ काम करना चाहेंगे, अगर किसी कहानी या फिल्म में सचमुच उनके योग्य किरदार हों। अंत में आमिर ने जोड़ा, ‘…और मैं उम्मीद करता हूं कि वह भी मेरे साथ काम करना चाहें।’

इस बीच प्रसून ने अपने माइक से सनी के पेशे पर अपनी राय व्यक्त करनी शुरू कर दी। 2015 में पद्मश्री से सम्मानित हो चुके प्रसून ने रंग दे बसंती, फना, तारे जमीन पर, दिल्ली 6 और भाग मिल्खा भाग जैसी फिल्मों के लिए गीत लिखे हैं। सर्वश्रेष्ठ गीतकार के लिए उन्हें दो राष्ट्रीय और तीन फिल्मफेयर पुरस्कार मिल चुके हैं।

प्रसून ने सनी के पेशे की तीखी आलोचना करते हुए कहा, ‘कई बार हम कलाकार के नाम पर किसी व्यवसाय का बहुत ज्यादा महिमा मंडन करने लगते हैं।’ उन्होंने कहा कि जरूरी है कि जो व्यवसाय हैं वह जीवन से जुड़े हों और समाज के लिए सकारात्मक काम कर रहे हों। अच्छा काम कर रहे हों। प्रसून ने साफ शब्दों में कहा, ‘चूंकि सवाल व्यवसाय का उठा है तो मैं कहूंगा कि सनी लियोनी का जो व्यवसाय है मैं उसकी कतई इज्जत नहीं करता और मुझे नहीं लगता कि मैं चाहूंगा, हमारी युवा पीढ़ी उस व्यवसाय से प्रेरित हो।’ वैसे प्रसून ने कहा कि कोई भी कलाकार यह नहीं चाहता कि किसी व्यक्ति को उसके व्यवसाय के लिए कठघरे में खड़ा करके उसे बेईज्जत किया जाए। प्रसून के अनुसार कल को सनी का पक्ष वाले तर्कों के हिसाब से कहा जा सकता है कि फलां व्यक्ति नशीले पदार्थों का व्यवसाय करता है मगर यह तो उसका निजी मामला/काम है।

प्रसून ने कहा कि हम एक स्वतंत्र समाज में रहते हैं और हर किसी को अपने मन के मुताबिक चयन करने की आजादी है। परंतु अगर कोई गलत चयन करता है तो उसकी आलोचना करने का हक समाज को है। हालांकि यह विषय ब्लैक एंड व्हाइट जैसा किसी एक रेखा से बंटा नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर सनी या कोई सकारात्मक पेशा न करने वाला व्यक्ति उनके सामने आ जाएगा तो ऐसा नहीं है कि वह उसकी बेइज्जती कर देंगे क्योंकि हमारी संस्कृति इसकी इजाजत नहीं देती। परंतु यह जरूर है कि समाज को ऐसे पेशे की निंदा करने का हक है जो हमारी पीढ़ी या आने वाले कल को नकारात्मक चीजों की तरफ ढकेलता है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .