Home > Crime > स्‍वतंत्रता दिवस पर देश को दहलाने की साजिश नाकाम, 2 आतंकी गिरफ्तार

स्‍वतंत्रता दिवस पर देश को दहलाने की साजिश नाकाम, 2 आतंकी गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर के यामाहा तिराहे से मंगलवार सुबह 2 बांग्लादेशी आतंकी गिरफ्तार किए गए हैं। स्वतंत्रता दिवस से 20 दिन पहले पकड़े गए ये आतंकी बड़ी साजिश का हिस्सा हो सकते हैं।

गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकी बांग्लादेश के आतंकवादी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन के सदस्य हैं। इन्हें पकड़ने के लिए तीन राज्यों की स्पेशल टास्क फोर्स ने संयुक्त अभियान चलाया था।

इस ऑपरेशन को बंगाल एसटीएफ, यूपी एटीएस और सूरजपुर पुलिस ने मिलकर अंजाम दिया है। दोनों गिरफ्तार आतंकियों के नाम मुशर्रफ हुसैन और रुबेल अहमद नाम है। ये दोनों आतंकवादी कलकत्ता के मुकदमे में वांछित थे।

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर के यामाहा तिराहे से मंगलवार सुबह 2 बांग्लादेशी आतंकवादी गिरफ्तार किए गए हैं। स्वतंत्रता दिवस से 20 दिन पहले पकड़े गए ये आतंकी बड़ी साजिश का हिस्सा हो सकते हैं।
गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकी बांग्लादेश के आतंकवादी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन के सदस्य हैं। इन्हें पकड़ने के लिए तीन राज्यों की स्पेशल टास्क फोर्स ने संयुक्त अभियान चलाया था।

एटीएस, एलआईयू व आईबी समेत तमाम खुफिया एजेंसियां गिरफ्तार आतंकियों से पूछताछ कर जानकारी जुटाने में लगी हुई हैं। आतंकी गतिविधियों की वजह से बांग्लादेश सरकार ने इस संगठन को प्रतिबंधित कर रखा है। इन आतंकियों के भारत आने का क्या मकसद है?

इन्होंने भारत में कहां-कहां रैकी की है? खुफियां एजेंसियां इसकी जानकारी जुटा रही हैं। साथ ही इनके सामान की बारीकी से जांच की जा रही है। अभी तक की तलाशी में आरोपियों के पास से पासपोर्ट या भारत आने का कोई अन्य वैधानिक दस्तावेज नहीं मिला है।

बता दें कि आइएस और हिजबुल मुजाहिदीन के अलावा दिल्ली पर दिल्ली पर खालिस्तानी आतंकियों का भी खतरा मंडराता रहता है। पिछले दिनों खुफिया एजेंसियों को दो खालिस्तानी आतंकियों के भारत में प्रवेश करने की सूचना मिली थी कि। दोनों संसद भवन पर हमला करने के इरादे से भारत आए थे। इसके बाद पुलिस ने नई दिल्ली व मध्य जिले को अलर्ट किया था।

दहशतगर्द मंसूबे में कामयाब न हों सके इसके लिए पुलिस ने संसद सहित दोनों जिले में कई स्तरीय सुरक्षा घेरा तैयार किया था। संदिग्धों पर अब भी नजर रखी जा रही है।

संसद भवन और दोनों जिलों में पतंग उड़ाने पर प्रतिबंध के अलावा सुरक्षा कर्मियों को उड़ने वाली संदिग्ध वस्तु (यूएफओ) को दिखते ही उसे मार गिराने का निर्देश दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि खालिस्तान के लखविंदर सिंह और परमिंदर सिंह नाम के दो कुख्यात आतंकी नेपाल के रास्ते भारत में प्रवेश कर गए हैं। उनके पास उत्तर प्रदेश के नोएडा की पंजीकृत इनोवा कार है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .