Surgical strikesसेना ने घुसकर आतंकियों को मारा - Tez News
Home > State > Delhi > Surgical strikesसेना ने घुसकर आतंकियों को मारा

Surgical strikesसेना ने घुसकर आतंकियों को मारा

Demo-Pic

Surgical strikes

नई दिल्ली- उरी हमले के बाद भी पाकिस्तान बाज नहीं आ रहा था तो भारतीय फौज ने पहली बार ऐसा ऐतिहासिक कदम उठाया, जिसके बारे पाकिस्तान ने सपने में भी नहीं सोचा था। भारतीय सेना के डीजीएमओ रणबीर सिंह ने बताया कि हमें पक्का जानकारी थी कि सीमा पर से कुछ आतंकी घुसपैठ करने की कोशिश में है। हमारी सेना के कमांडो ने बड़ी ही बहादुरी से लॉन्चिंग पेड पर सर्जिकल स्ट्राइक करके आतंकियों और उनकी मदद करने वालों को मार गिराया। DGMO और विदेश मंत्रालय की संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह खुलासा किया गया है।

हमले में आतंकियों के 6 बंकरों को नेस्तनाबूद किया गया। सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तानी सीमा के 3 किलोमीटर अंदर घुसकर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया। जानकारी के मुताबिक शाम को 6 बजे भारतीय सेना फिर से प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के और जानकारी देगी।

डीजीएमओ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि भारतीय सेना को सटीक खबर मिली थी कि पाकिस्तान के जरिए आतंकवादी भारत में घुसपैठ के लिए तैयार हैं। भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सरजमीं में अपने सबसे बेहतरीन कमांडो भेजे थे। सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना ने पहली बार इस तरह के ऑपरेशन में वायुसेना की मदद नहीं ली है और भारतीय सैनिक बिना किसी खरोंच के वापस लौटे हैं।

भारत ने नाकाम की घुसपैठ की कोशिशें
डीजीएमओ ने यह बताया कि इस साल पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की 20 कोशिशें नाकाम की गई हैं। उरी और पूंछ में हुए आतंकी हमलों में पाकिस्तानी हाथ होने के कई सबूत हैं।  इन हमलों में मारे गए आतंकवादियों के पास से कई ऐसे सामान मिले हैं जिनके पाकिस्तान का चिह्न बना हुआ है।  इतना ही नहीं भारत ने कई बार पाकिस्तान को सबूत सौंपे हैं लेकिन कोई असर नहीं हुआ है।

आतंकियों ने कबूला PAK कनेक्शन
प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि उरी और पूंछ हमले में मारे गए आतंकियों के डीएनए सैंपल से पता लगा है कि वे पाकिस्तानी हैं। भारत ये सैंपल पाकिस्तान को देने के लिए भी तैयार है। आतंकियों ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग मिलने की बात भी कबूल ली है। यह भी घोषणा की गई है कि भारतीय सेना किसी भी हालात के लिए तैयार है।

राष्ट्रपति, विपक्ष को दी गई जानकारी
खबरों के मुताबिक भारतीय सेना ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल और मुख्यमंत्री को भी सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी जानकारी दी है।

उरी हमले में भारत के 18 जवान शहीद हुए हैं। खबरों की माने तो भारत का मानना है कि सीजफायर के बाद भी पाकिस्तान की ओर से सीमा पर फायरिंग, हमले जारी हैं, ऐसे में सीजफायर का कोई मतलब नहीं रह गया है। बता दें कि बीते 24 घंटे में पाकिस्तान की ओर से 3 बार सीजफायर का उल्लंघन किया जा चुका है।

बता दें कि उरी हमले के बाद LoC पर भारत की तरफ से सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हालांकि इसके बावजूद पाकिस्तान बीते कुछ दिनों में कई बार सीजफायर का उल्लंघन कर चुका है। [एजेंसी]




loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com