पाकिस्तान आतंकवाद के लिए सबसे सेफ, पाक कार्रवाई करता है तो ठीक है, वरना हम निपटेंगे

0
12

तेहरान : ईरान ने दावा किया है कि उनकी सेना ने पाकिस्तान की सीमा पर डेरा डाले आतंकियों को मार गिराया है। ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सेना ने पाकिस्तान के सिस्तान-बलूचिस्तान प्रांत में रह रहे चार आतंकवादियों को मार दिया है। दक्षिण पूर्व ईरान में सुन्नी आतंकवादी समूहों ने लंबे समय से सेना और नागरिक को निशाना बनाया है, जिसका उद्देश्य शिया बहुल ईरान में सुन्नी मुसलमानों पर हो रहे भेदभाव का कारण माना जाता रहा है। ईरान ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवाद के लिए सबसे सेफ जगह है, अगर इस्लामाबाद कार्रवाई करता है तो ठीक है, वरना हम अपने ढंग से निपटेंगे।

ईरान के रिवोल्यूशनरी ग्रुप ने कहा कि उनकी सेना ने चार आतंकवादियों की हत्या कर दी और दो को घायल हुए हैं। वहीं, अन्य आतंकी पाकिस्तान में भागने में कामयाब हो गए। बयान में कहा गया है कि इसमें ईरानी सेना कोई नुकसान नहीं हुआ।

ईरान का आरोप है कि टेरर ग्रुप दुनिया की घमंडी शक्तियों से जुड़े हुए हैं। ईरान का आरोप है कि इजरायल, सऊदी और अमेरिका सुन्नी टेरर ग्रुप को फंडिंग करते आए हैं। हालांकि, इन देशों ने ईरान के आरोपों को शुरू से खारिज किया है। पाकिस्तान का सिस्तान-बलूचिस्तान प्रांत लंबे समय से नशीली दवाओं के तस्करी गिरोहों और अलगाववादी आतंकवादियों की वजह से अशांति से पीड़ित है। ईरान का कहना है कि टेरर ग्रुप्स के लिए पाकिस्तान सबसे सेफ जगह है। ईरान ने चेतावानी दी है कि कि यदि इस्लामाबाद आतंकियों के खिलाफ मुकाबला नहीं करने में नाकाम रहता है, तो वे उनके अनुसार काम करेंगे। गौरतलब है कि दक्षिण पश्चिमी ईरान में एक सैन्य परेड में पिछले सप्ताह शनिवार को हुए हमले के बाद सीमावर्ती इलाकों में सुरक्षा उपायों को तेज कर दिया गया है। ईरान में हुए इस हमले में 5 सुरक्षागार्ड समेत 25 लोगों की मौत हुई थी। इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।