File Photo
File Photo

कुख्यात इस्लामिक स्टेट समूह के एक शीर्ष कमांडर उमर अल शिशानी उर्फ ‘ उमर द चेचन’ की पूर्वोत्तर सीरिया में अमेरिका नीत गठबंधन के हमले में घायल होने बाद मौत हो गई। पेंटागन ने सोमवार को इस बात की पुष्टि की है।

अमेरिकी अधिकारियों ने एक सप्ताह पूर्व कहा था कि चार मार्च को सर्वाधिक वांछित आतंकवादी उमर अल शिशानी उर्फ उमर द चेचन को निशाना बनाकर एक जिहादी काफिले पर हमला किया गया था।

पेंटागन के प्रवक्ता नेवी कप्तान जेफ डेविस ने एएफपी से कहा कि हमारा मानना है कि घायल होने के कारण उसकी अंतत: मौत हो गई। सीरियन आब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स निगरानी समूह ने रविवार को कहा था कि शिशानी कई दिनों से ‘‘चिकित्सकीय रूप से मृत’’ था। शिशानी उर्फ तरखान बतिराशविली अमेरिका द्वारा आईएस के सबसे वांछित सरगनाओं में शामिल था। अमेरिका ने उसके सिर पर 50 लाख डॉलर के ईनाम की घोषणा कर रखी थी।

ज्ञात हो कि पिछले दिनों रूस ने आरोप लगाया था कि सीरिया में अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन के अभियान से इस्लामिक स्टेट को अपने कब्जे वाले क्षेत्र का विस्तार करने में मदद मिल रही है। रूसी राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने एक टेलीविजन को दिये साक्षात्कार में कहा था कि  “लगभग 15 महीनों से अधिक समय से अमेरिका नीत गठबंधन ने इराकी क्षेत्र एवं सीरियाई हवाई क्षेत्र में अभियान जारी रखे हुए हैं। दुर्भाग्य से एक वर्ष से भी अधिक समय से चल रहे इस अभियान से आईएस के कब्जे वाले क्षेत्र में विस्तार हुआ है।”

”सीरिया में ISIS कमांडर ‘उमर द चेचन’ की मौत” ‘इंटरनेट डेस्क’