विराट कोहली का अर्धशतक, टीम इंडिया की मजबूत बढ़त

virat-kohli भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के साथ जारी मैच के तीसरे दिन दूसरी पारी में बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक बनाया। कोहली ने 7 चौकों की मदद से 50 रन पूरे किए। कप्तान विराट कोहली (72) और अजिंक्य रहाणे (37) खेल रहे हैं। खबर लिखने तक भारत ने चार विकेट पर 162 रन बना लिए थे। अभी तक भारत के पास 377 रनों की बढ़त है।

भारत का पहले विकेट मुरली विजय के रूप में गिरा। विजय 3 रन बनाकर मोर्नी मोर्कल की गेंद पर विकेटकीपर विलास को कैच थमा बैठे। रोहित शर्मा बिना खाता खोले मोर्नी मोर्कल की गेंद पर बोल्ड हो गए। शिखर धवन 21 रन बनाकर मोर्नी मोर्कल की गेंद पर बोल्ड हो गए। चेतेश्वर पुजारा 28 रन बनाकर इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड हो गए।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से मोर्ने मोर्कल ने 22 रन देकर तीन विकेट चटकाए हैं।
इससे पहले अजिंक्य रहाणे के शतक की बदौलत 334 रन का मजबूत स्कोर खड़ा करने के बाद भारत ने रविंद्र जडेजा की फिरकी के जादू से दक्षिण अफ्रीका को 121 रन पर ढेर करके चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शुक्रवार को मैच पर अपना शिकंसा कस दिया।

जडेजा ने 30 रन देकर पांच विकेट चटकाए जिससे फिरोजशाह कोटला मैदान पर दक्षिण अफ्रीका की टीम पहली पारी में 49.3 ओवर में ही ढेर हो गई। रविचंद्रन अश्विन और उमेश यादव ने जडेजा का अच्छा साथ निभाते हुए क्रमश: 26 और 32 रन देकर दो-दो विकेट हासिल किए।

दक्षिण अफ्रीका की ओर से एबी डिविलियर्स ने सर्वाधिक 42 रन बनाए। उनके अलावा सलामी बल्लेबाज तेंबा बावुमा (22) और डीन एल्गर (17) तथा डेन विलास (11) ही दोहरे अंक में पहुंच गए। दक्षिण अफ्रीका के 213 रन से पिछड़ने के बावजूद भारत ने फालोऑन नहीं देने का फैसला किया।

इससे पहले रहाणे (127) के पांचवें टेस्ट शतक और अश्विन (56) के साथ आठवें विकेट की उनकी 193 गेंद में 98 रन की साझेदारी से भारतीय टीम सीरीज में पहली बार 300 रन के आंकड़े को पार करने में सफल रही। रहाणे मौजूदा सीरीज में शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 215 गेंद की अपनी पारी के दौरान 11 चौके और चार छक्के मारे।

सीरीज के पहले तीन मैचों की तरह इस बार भी दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत खराब रही। डीन एल्गर और सीरीज में पहला मैच खेल रहे बावुमा ने 15वें ओवर तक भारतीय गेंदबाजों को सफलता से महरूम रखा। एल्गर हालांकि 50 गेंद में 17 रन बनाने के बाद उमेश की आफ साइड से बाहर जाती गेंद से छेड़ने की कोशिश में विकेटकीपर रिद्धिमान साहा को कैच दे बैठे।