Home > India News > विधायक दल के नेता चुने गए जगन मोहन रेड्डी, बनेंगे आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री

विधायक दल के नेता चुने गए जगन मोहन रेड्डी, बनेंगे आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री

नई दिल्लीः 17वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में मतदाताओं ने प्रचंड बहुमत के साथ देश की बागडोर फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों में सौंप दी। लोकसभा चुनाव में भाजपा 303 सीटें जीत चुकी है, जबकि एनडीए गठगबंधन को 352 सीटें हासिल हुई हैं। अब देश की नजर शपथग्रहण से लेकर ‘मोदी 2.0’ के कैबिनेट गठन पर है। यहां आपको आज दिनभर की सियासी हलचल का अपडेट मिलेगा।

वाईएसआरसीपी को लोकसभा के साथ विधानसभा चुनावों में मिली अपार सफलता के बाद पार्टी के बीच जश्न का माहौल है। अमरावती में शनिवार को हुई विधायक दल की बैठक में उन्हे नेता चुना गया। मालूम हो कि प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों में वाईएसआरसीपी ने 151 सीटों पर जीत हासिल की है और टीडीपी को बुरी तरह हरा दिया।

पुरी लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी संबित पात्रा को हराने वाले बीजद प्रत्याशी पिनाकी मिश्रा ने कहा है कि वह अपना पूरा वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराएंगे, ताकि इसका इस्तेमाल पुरी के विकास के लिए हो सके। मालूम हो कि ओडिशा में बीजद प्रमुख नवीन पटनायक मुख्यमंत्री हैं।

भाजपा को प्रचंड बहुमत से मिली जीत के बाद नरेंद्र मोदी रविवार को अपनी मां हीराबा का आशीर्वाद लेने गुजरात जाएंगे। रविवार के बाद वह अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी जाएंगे और उन पर एक बार फिर विश्वास जताने और भारी जीत दिलाने वाले काशी के लोगों का आभार जताएंगे।
भाजपा को मिली बड़ी कामयाबी में उसके सहयोगी दलों की भी भूमिका रही। आज दिल्ली में एनडीए दलों की बैठक होगी। इस बैठक में संसदीय दल का नेता चुना जाएगा, हालांकि पहले से ही नरेंद्र मोदी को चुना जाना तय है। बिहार के मुखिया नीतीश कुमार, लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे समेत कई बड़े नेता इस बैठक के लिए दिल्ली पहुंचेंगे।

दिल्ली में आज कांग्रेस कार्यसमिति की भी बैठक होगी। इस बैठक में लोकसभा चुनाव में हुए खराब प्रदर्शन की समीक्षा होगी। नतीजे वाले दिन से ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे की चर्चा हो रही है, हालांकि कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ऐसी खबरों का खंडन किया था।

टीएमसी प्रमुख और प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पार्टी नेताओं के साथ कोलकाता के कालीघाट स्थित अपने आवास पर शनिवार को बैठक करेंगीं।

नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्रपति से मुलाकात की और मंत्रिपरिषद के साथ अपना इस्तीफा सौंप दिया। राष्ट्रपति ने इस्तीफा स्वीकार करने के बाद नरेंद्र मोदी और मंत्रिपरिषद से अनुरोध किया है कि वे नई सरकार के पद ग्रहण करने तक कार्यभार संभाले रखें।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com