Home > Other Religion > श्री 108 सुप्रभसागर जी महाराज की प्रथम दीक्षा जयंती

श्री 108 सुप्रभसागर जी महाराज की प्रथम दीक्षा जयंती

Suprabha Sagar Ji Maharaj

खंडवा-खंडवा के ब्रह्मचारी जो की आचार्य 108 श्री विद्यासागर जी महाराज से शिक्षित हुए और आचार्य 108 श्री वर्धमान सागर जी महाराज से दीक्षित कपिल भैया जी जिनकी मुनि दीक्षा पिछले वर्ष सोनागिर में 2 फरवरी को हुई थी और तिथि के हिसाब से आज माघ शुक्ल तीज 23 फरवरी को हुई थी जिनका नाम मुनि सुप्रभ सागर जी रखा गया था।आज 23 जनवरी को मुनि श्री 108 सुप्रभसागर जी महाराज की प्रथम दीक्षा जयंती है ।

अभी महाराज जी आनंदपुर कालू राजस्थान में विराजित है वहा पर जैन समाज द्वारा उनकी प्रथम दीक्षा जयंती के उपलक्ष्य में श्री शांतिनाथ मंडल विधान का आयोजन किया गया।इस अवसर पर खंडवा से उनके गृहस्थ जीवन की माताजी श्रीमती मधुबाला जैन भाई मनीष जैन भाभी श्रद्धा जैन सहपाठी अचिंत जैन अंकित जैन प्रिवेश जैन रिवेश जैन राकेश जैन भी उपस्थित रहे।

इस अवसर पर किशनगढ़ और आनंदपुर कालू जैन समाज के भी कई समाजजन इस विधान में उपस्थित थे।पोरवाड़ दिगंबर जैन समाज खंडवा के ट्रस्टी प्रेमांशु चौधरी ने बताया की खंडवा के ब्रम्हचारी कपिल भैया जी का मुनि बनना समाज के लिए गौरव की बात है।

उनसे प्रेरणा लेकर खंडवा के युवाओ को धर्म के प्रति रूचि लेकर धर्मध्यान करना चाहिए।इस अवसर पर मुनि श्री 108 सुप्रभ सागर जी ने कहा की खंडवा में रोजाना बच्चो की धार्मिक क्लास लगना चाहिए जिससे बालको में धर्म के प्रति रूचि बढेगी और रोजाना देव दर्शन हेतु प्रेरित होंगे।और बड़ो के लिए नित्य स्वाध्याय करने की बात कही।क्योंकि धर्म ही हमेशा साथ रहता है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com