Home > India > जयललिता के लिए उज्जैन के महाकाल मंदिर में महामृत्युंजय का जाप

जयललिता के लिए उज्जैन के महाकाल मंदिर में महामृत्युंजय का जाप

jayalalitha-special-prayer-in-ujjain-mahakal-templeइंदौर- तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता को दिल का दौरा पड़ने के बाद उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है। देशभर में उनकी सलामती के लिए दुआ की जा रही है। वहीं, उज्जैन के महाकाल मंदिर में महामृत्युंजय का जाप भी किया जा रहा है।

जयललिता के एक समर्थक के कहने पर उनकी सलामती के सोमवार से महामृत्युंजय जाप शुरू किया गया है। मान्यता है कि महाकाल मंदिर में महामृत्युंजय से भगवान महाकाल ‘काल’ को हर लेते हैं।

महाकाल मंदिर के पंडित मोहित गुरु ने बताया कि मुख्यमंत्री की तबीयत में सुधार होने तक महामृत्युंजय जाप शुरू रहेगा। मुख्यमंत्री की सकुशलता और कामना के लिए मंदिर में रोजाना विशेष पूजन भी होगा।

जयललिता की हालत नाजुक
सोमवार को अपोलो अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जयललिता की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें ईसीएमओ और अन्य जीवन रक्षक सहायक प्रणालियों पर रखा गया है।

ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) की नेता को रविवार को दिल का दौरा पड़ा था। उनका इलाज चल रहा है और विशेषज्ञ उनकी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने कहा था कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री खतरे से बाहर हैं।

अपोलो अस्पताल का बयान
अपोलो अस्पताल की ओर से सीएम जयललिता के बारे कहा गया है कि उनकी हालत काफी नाजुक है। जब से जयललिता बीमार हुई हैं, तब से पहली बार अस्पताल की ओर से अम्मा के लिए इस तरह का बयान आया है।

वैसे आपको बता दें कि तमिलनाडु की मुख्‍यमंत्री जयललिता की आज सुबह उनकी सर्जरी की गई थी जिसकी जानकारी पार्टी एआईएडीएमके की प्रवक्ता सीआर सरस्वती ने मीडिया को दी थी।

अपोलो अस्पताल के बाहर खासी भीड़
इस वक्त अपोलो अस्पताल के बाहर खासी भीड़ जमा है और सरकार ने अस्पताल के बाहर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। जयललिता के स्वास्थ्य की निगरानी विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम कर रही है, जिसमें हृदयरोग विशेषज्ञ, फेफड़ा विशेषज्ञ और क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ शामिल हैं।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com