Home > Development > झारखण्ड का कोई भी व्यक्ति बेघर नही होगा- रघुवर दास

झारखण्ड का कोई भी व्यक्ति बेघर नही होगा- रघुवर दास

jharkhand chief minister raghubar das press conferenceजमशेदपुर : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नव वर्ष की शुभकामना देते हुए कहा कि वर्ष 2022 तक झारखण्ड का कोई भी व्यक्ति बेघर नही होगा, सरकार सभी वंचितों को चरणबद्ध रूप से आवास देने की योजना पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जनवरी माह में केन्द्र सरकार की ओर से कुल 9000 करोड़ रूपये की लागत से झारखण्ड की सड़क योजना का शिलान्यास माननीय केन्द्रीय मंत्री नीतिन गडकरी की ओर से किया जायेगा। साथ ही डळड में व्यवस्था सुधार को लेकर उन्होंने कहा कि बहुत जल्द ही यहाँ की व्यवस्था को सुुदृढ़ और सुविधाओं का विस्तार किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार बेरोजगारी उन्मूलन और महिला सशक्तिकरण को लेकर कृत संकल्पित है और ज्यादा से ज्यादा आईटी का इस्तेमाल करेगी। मुख्यमंत्री आज जमशेदपुर के सिदगोड़ा स्थित सोन मण्डप में प्रेस को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि विकसित झारखंड की परिकल्पना अतीत के साथ नहीं बल्कि भविष्य से जुड़कर होनी चाहिये। वर्ष 2016 गाँवों की जनता का वर्ष है, विकास का वर्ष है। सरकार बनने के साथ ही हमने पारदर्शी शासन, जवाबदेह प्रशासन, जनता का शासन का संकल्प लिया था। इसी उद्देश्य के साथ सरकार सबका साथ सबका विकास करने की दिशा में आगे बढ़ रही है।

जन प्रतिनिधि से जनता की आकांक्षा रहती है और मैं प्रधान सेवक के रूप में उपस्थित हूँ। उन्होंने कहा कि विकास एक सतत चलनेवाली प्रक्रिया है। मीडिया से अनुरोध है कि योजना बनाओ अभियान में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित कराने में अपना सहयोग अवश्य दें। सरकार की इच्छा है कि योजनाएं थोपी ना जाये बल्कि योजनाएं समाज के अन्तिम पायदान पर बैठे लोगों के अनुरूप हो।

सरकार समावेशी विकास के लिए मुख्य रूप से 4 (चार) क्षेत्रों में कार्य कर रही है- कृषि, उद्योग, सूचना प्रोद्योगिकी एवं पर्यटन। उन्होंने कहा कि देखते देखते पहली पूर्ण बहुमत की सरकार को एक साल बीत गया। पूर्व में झारखंड के विकास को लेकर जो नकारात्मक संदेश था, वहां उम्मीदों का उजियारा हुआ है और विभिन्न स्तरों पर विकास की बुनियाद रखी गई हैं।
श्री दास ने कहा कि उनकी सरकार ने 2015-16 के वित्तीय बजट में जो वादे किये गये थे, उन वायदों पर सरकार ने कितना काम किया इसके लिये 2016-17 के बजट के पूर्व सदन के पटल पर सरकार एटीआर पेश करेगी।

जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरना सरकार का उद्देष्य है तथा सरकार का प्रयास है कि राज्य के विकास में जनता की भूमिका महत्वपूर्ण हो । उन्होंने मीडिया के माध्यम से जनता से अपील करते हुए कहा कि हर चीज के लिये सरकार के भरोसे रहने की आदत नहीं डालें बल्कि सरकार को सहयोगी के रूप में समझें।

उन्होंने कहा कि झारखंड को विकास की राहों पर अभी बहुत आगे ले जाना है। जनता की बुनियादी समस्याओं से लेकर विभिन्न स्तरों पर सुधारों की आवश्यकता है। इसलिये सरकार आने वाले दिनों में बीते एक साल में हुए कार्यों के कार्यान्वयन की समीक्षा करते हुए विकास की राहों में आगे बढेगी। उन्होंने कहा कि बीते एक साल में झारखंड ने जो नये आयाम स्थापित किये हैं उसमें सभी विभाग के पदाधिकारियों की भूमिका सराहनीय है और वे धन्यवाद के पात्र हैं।

उन्होंने मीडिया से अपील करते हुए कहा कि किसी भी समाचार का प्रकाशन तथ्यों के आधार पर करें। उन्होंने कहा कि बीते एक साल में जिस प्रकार मीडिया सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक समस्याओं को सरकार के सामने रखा है, वह बेहतरीन पत्रकारिता का एक उदाहरण है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से विभिन्न विभागों के पदाधिकारी और प्रिंट और इलेक्ट्राॅनिक मीडिया के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

रिपोर्ट – अशोक कुमार झा

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com