Home > India News > गौरक्षा की आड़ में हिंसा के पीछे पशु तस्कर हो सकते हैं !

गौरक्षा की आड़ में हिंसा के पीछे पशु तस्कर हो सकते हैं !

File - Pic

File – Pic

रांची- झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि जो लोग भारत को अपना देश मानते हैं, उन्हें गाय को माता के रूप में मानना चाहिये। हालांकि दास ने जोर देकर कहा कि गाय बचाने की आड़ में हिंसा नहीं होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि गाय बचाने के नाम पर हाल में हुयी हिंसक घटनाओं में पशु तस्कर शामिल हो सकते हैं।

दास ने कहा, ‘पूरा संघ परिवार गाय बचाने के मुद्दे को लेकर एकमत है। जो लोग भारत को अपना देश मानते हैं, उन्हें गाय को अपनी मां की तरह समझना चाहिये।

गौहत्या और गायों की गिनती के मुद्दे पर संघ परिवार के साथ मतभेदों के बारे में पूछे जानने पर दास ने कहा, ‘संघ परिवार इस मुद्दे पर एकजुट है। गाय हमारी माता है. जो लोग भारत में रहते हैं और भारतीय हैं, जो लोग भारत को अपना देश कहते हैं, उनके लिए गाय उनकी माता की तरह है। ‘

दास ने गौरक्षा के नाम पर हाल में हुई घटनाओं से उपजे विवाद के बीच यह प्रतिक्रिया दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छह अगस्त को गौ-रक्षकों पर अपना रोष व्यक्त करते हुए कहा था कि इस तरह के ‘समाज विरोधी तत्व’ रात को अपराधों में लिप्त रहते हैं और दिन में गौरक्षक बनने का ढोंग करते हैं।




Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com