Home > India > केरल: मंदिर में आग से 110 की मौत, 350 जख्मी, मोदी जाएंगे कोल्लम

केरल: मंदिर में आग से 110 की मौत, 350 जख्मी, मोदी जाएंगे कोल्लम

kerala-temple-tragedyकोल्लम- रविवार तड़के केरल के कोल्लम में पुत्तिंगल मंदिर में आग ने भयानक तबाही मचाई जिसमे अब तक 110 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीँ 350 से ज्यादा घायल हो गए हैं ! यह हादसा सुबह 3.30 बजे के करीब का बताया जा रहा है ! इस दर्दनाक हादसे पर शौक जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘कोल्लम के मंदिर में लगी आग मर्मभेदी और हैरान करने वाली है। इसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। मैं मृतकों के परिवार वालों को लेकर चिंतित हूं और घायलों के लिए प्रार्थना करता हूं। साथ ही प्रधानमंत्री ने कोल्लम मंदिर हादसे में मरने वाले लोगों के निकटतम संबंधी को दो-दो लाख रूपये का मुआवजा और घायलों को 50 हजार रूपये का मुआवजा देने की घोषणा की !

कंट्रोल रूम नंबर : 0474 2512344, 0949760778, 0949730869
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोल्लम में मंदिर में लगी आग को दिल दहला देने वाली और स्तब्ध कर देने वाली करार देते हुए कहा कि वह स्थिति का जायजा लेने के लिए केरल जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने ट्वीट में कहा ‘कोल्लम में मंदिर में लगी आग दिल दहला देने वाली और स्तब्ध कर देने वाली है जिसके बारे में कुछ कह पाना शब्दों से परे है। मृतकों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं और घायलों के लिए प्रार्थनाएं हैं।’

उन्होंने कहा ‘‘मैं कोल्लम में दुर्भाग्यपूर्ण अग्निकांड की वजह से उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए जल्द ही केरल पहुंचूंगा।’ प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा को दुर्घटना स्थल पर पहुचने के लिए भी कहा है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है, मोदी ने ट्वीट कर लिखा है कि कोल्लम के मंदिर में आग लगने की घटना दुख पहुंचाने वाली है। हादसे में मारे लोगों के परिवार वालों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं।

प्राप्त जानकारी अनुसार इस मंदिर में दर्शन के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद थी। कार्यक्रम के दौरान यहां आतिशबाजी हो रही थी, तभी मंदिर के एक हिस्से में आग लग गई और देखते ही देखते आग इतनी भयानक हो गई कि लोगों को बचकर निकलने का मौका तक नहीं मिला। आग लगने के बाद वहां भगदड़ मच गई। विस्फोट की आवाज एक किलोमीटर के दायरे तक सुनी जा सकती थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बिजली आपूर्ति के ठप्प हो जाने के कारण पूरा इलाका अंधेरे में डूब गया और लोग इधर-उधर दौड़ने लगे।

बता दें कि केरल में 4 दिन बाद नए साल का उत्सव मनाया जाना है। नए साल से पहले यहां पूजा का आयोजन होता है और उसी सिलसिले में बड़ी संख्या में मंदिर में श्रद्धालु इकट्ठा हुए थे। केरल के सीएम ओमन चांडी मौके पर रवाना हो गए हैं।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com