7 माह की बच्ची गोद में लेकर बैठी रही माँ, बच्ची ने दम तोडा, हत्या का आरोप


खंडवा : मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में एक महिला पर अपनी ही 7 माह की बच्ची को मार डालने का आरोप लगा है। आरोप लगाने वाले गांव के ही लोग हैं । यह खबर थाने तक भी पहुंची । आरोपों की गंभीरता को देख पुलिस ने महिला की गोद से उसकी मृत बच्ची के शव को कब्जे में लेकर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है । महिला का पति उसे छोड़कर 6 दिन पूर्व ही कहीं चला गया है।

मामला खंडवा जिले के अहमदपुर के गांव गांव का है ।यहां सुबह से ही एक महिला अपने बच्ची को गोद में लेकर बैठी हुई थी। लगातार रोने वाली बच्ची को जब इतना शांत ग्रामीणों ने देखा तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी।

महिला का कहना है कि उसकी बेटी पिछले 15 दिन से बीमार थी। इलाज कराने की बात पर ही पति से उसका विवाद हुआ । गुस्से में पति भी उसे छोड़ के चला गया। महिला ने डॉक्टर से भी अपनी बेटी का इलाज करवाया ।

इलाज के बाद घर ले गए तब भी उसकी हालत ठीक नहीं हुई और उसकी मौत हो गई । मां का कहना है कि लगातार रोते रहने की वजह से उसकी उसके प्राण कब निकल गए पता ही नहीं चला । वह दिनभर बच्ची को गोद में लेकर बैठी रही। ग्रामीणों के आरोप के बाद मामला थाने तक पहुंचा ।

महिला का पति 6 दिन पूर्व ही घर छोड़कर चला गया। महिला का कहना है कि बच्चे की तबीयत खराब होने के बाद डॉक्टर को दिखाने की बात पर उसका पति के साथ विवाद हुआ और गुस्से में पति घर छोड़कर चला गया। महिला ने कमजोर आर्थिक स्थिति के बाद भी अपने क्षमता से बच्ची का इलाज कराया लेकिन बच्चे की तबीयत ठीक नहीं हुई । मां माया बाई मां का कहना है कि आज सुबह से ही बच्ची लगातार रो रही थी उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था और रोते रोते ही मां की गोद में बच्ची ने दम तोड़ दिया।

मोघट थाना थाना इंचार्ज शेर सिंह बघेल ने बताया की पुलिस को यह खबर गांव वालों की तरफ से ही मिली ,लेकिन कोई भी ग्रामीण यह बोलने के लिए सामने नहीं आया की मां ने ही बेटी की हत्या की। पुलिस ने सुनी सुनाई बातों के आधार पर गांव पहुंची। पुलिस ने देखा कि मां अपने बच्चे को गोद में लेकर बैठी हुई थी। पुलिस अब इस मामले की जांच करने के बाद ही कोई आरोप तय कर पायेगी।