खंडवा : मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में पुलिस ने ऐसे बदमाशो को पकड़ा है जो खुद को पुलिस ऑफिसर बताकर लुट करते थे पुलिस अधिकारी बनकर घूमते थे, वर्दी का रौब दिखाकर करते थे अपराध जब असली पुलिस से सामना हुआ तो हवा निकल गई।

जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया की दिनांक 22.02.2020 को फरियादी अरमान खान पिता इस्माइल खान उम्र 23 साल निवासी ग्राम लोहारदा थाना कॉटाफोड़ जिला देवास अपने मामा के पर शादी में हरसूद आया था। जो शादी के बाद अपने भाई यासीन के साथ अपनी मोटर साईकिल एमपी 41 एमटी 7325 से अपनी नानी को छोडऩे खालवा गया था। शाम को अरमान व यासीन दोनों उसी मोटर साइकिल से वापस हरसूद आ रहे थे, रात करीब 8.30 बजे जब आशापुर फारेस्ट डिपी के आगे लघुशंका के लिये के रूके तभी आशापुर तरफ से एक मोटर सायकल पर चार लड़के आये और अरमान व यासीन से बोले कि तुम्हारी मोटर सायकल पर पीछे नंबर नहीं लिखा है।

हम पुलिस वाले है। हमारे साथ थाने चलो। उसके बाद वे चारों अरमान की मोटर सायकल तथा अरमान व यासीन के मोबाईल लूट कर हरदा रोड तरफ भाग गये। फरियादी अरमान की रिपोर्ट पर थाना हरसूद में अपराध क्रं. 81/20 धारा 392 भादवि का अपराध अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध पंजीबद कर अनुसंधान किया गया।

घटना के अनुसंधान के दौरान कुछ मोबाईल नंबर संदिग्ध पाए गए, जब इन नंबरो की पड़ताल की गई तो वे हरिओम विश्नोई पिता रामअवतार उम्र 21 साल निवासी ग्राम रूनझुन थाना छिपावड़ जिला हरदा तथा रोहित विश्नोई पिता दिनेश उम्र 20 साल निवासी ग्राम बूंदड़ा थाना कोतवाली जिला हरदा के होना पाया गए। आप तेज़ न्यूज़ पर खबर पढ़ रहे है इन दोनों संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो पहले दोनों ने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया परन्तु जब उनसे सख्ती से पुछताछ की गई तो उन्होंने अपने साथी नरेन्द्र विश्नोई पिता रविशंकर उम्र 19 साल निवासी ग्राम खलमाय थाना छिपावड़ जिला हरदा तथा रामसिंह उर्फ गोलू पिता भीमसिंह उम्र 23 साल निवासी ग्राम रूनझुन थाना छिपावड़ जिला हरदा के साथ घटना को अंजाम देना कुबूल किया।

घटना के बाद फरियादी से लूटी हुई मोटर सायकल आरोपी हरिओम ने ग्राम रूनझुन स्थित अपने घर में छुपाकर रखी थी तथा फरियादियों के मोबाईल आरोपी नरेन्द्र व रोहित के पास थे। घटना में लूटी गई मोटर सायकल हीरो एचएफ डिलक्स एमपी 41 एमपी 7325 तथा एक वीवो व्हाय 15 मोबाईल व एक सेमसंग कीपेड मोबाईल तथा उनकी सीम आरोपियों से पुलिस व्दारा जप्त कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

आरोपी हरिओम विश्नोई, रोहित विश्नोई, नरेन्द्र विश्नोई तथा रामसिंह के व्दारा दिनांक 07.06.2019 को थाना हरसूद क्षेत्रांतर्गत घोड़ा पछाड़ नदी के पूल के पास एक मोटर सायकल सवार दो व्यक्तियों से भी 40000 रूपये की लूट करना स्वीकार किया गया है। आप तेज़ न्यूज़ पर खबर पढ़ रहे है दिनांक 07.06.2019 को फरियादी शंकरलाल पिता मुन्नालाल यादव उम्र 65 साल निवासी ग्राम कसरावद थाना हरसूद अपने साथी राकेश कीर के साथ बैंक ऑफ इंडिया की छनेरा शाखा से 40000 रूपये आहरित कर एक अपनी मोटरसाइकिल से अपने घर कसरावद जा रहे थे तब रास्ते में घोड़ा पछाड़ नदी पुल के पास एक मोटरसाइकिल से आए अज्ञात आरोपियों ने उनसे मारपीट कर, इरा धमका कर 40000 रुपये लूट लिये थे और ग्राम बोरीबादंरी के रास्ते हरदा रोड होते हुए भाग गए थे। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना हरसूद से अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अप. क्रं. 242/19 धारा 392 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही थी।

उक्त प्रकरण में भी पुलिस व्दारा आरोपी हरिओम विश्नोई, रोहित विश्नोई, नरेन्द्र विश्नोई तथा रामसिंह से लुटे गये रुपये बरामद कर इस प्रकरण में भी आरोपियों को गिरफ्तार किया है।