खंडवा : दिल्ली के जामिया और शाहीन बाग में गोली कांड की गूंज पुरे देश में गूंज रही हैं। शाहीन बाग की तर्ज पर CAA और NRC के विरोध में देश भर में चल रहे धरनो से अब इस गोली कांड का जवाब आया हैं।

खंडवा में CAA और NRC के विरोध में चल रहे प्रदर्शनकरियों ने सांकेतिक रूप से फांसी का फंदा गले में डाल कर कहा कि चाहें जितनी गोलियां चला लो हमारे पुरर्खो ने देश की आज़ादी के लिए फांसी के फंदो पर झूल कर कुबानिया दी है। हम भी मौत से डरने वाले नहीं है। CAA और NRC से आज़ादी के लिए फांसी पर झूलने तक को तैयर हैं।

शुक्रवार को दिल्ली के जामिया और शनिवार को शाहीन बाग में गोली कांड के बाद अब खंडवा में CAA और NRC के विरोध चल रहे धरने पर बैठे प्रदर्शनकरियों ने गोली के जवाब में अपने गले में फंदा डाल कर जवाब दिया हैं।

प्रदर्शनकरियों ने कहा कि हम गोली खाने से नहीं डरते। हमारे पुरखों ने अंग्रेजो के खिलाफ आज़ादी की लड़ाई में सूली पर झूल कर इस देश को आज़ाद कराया हैं। ऐसे ही हम भी CAA और NRC से आज़ादी के लिए फांसी के फंदो को चुम लेंगे। हम लोग देश की एकता और अखंडता को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। आज हमने फांसी के फंदे गले में डाल कर सरकार को ये संदेश देने की कोशिश की हैं की हमें मौत से न डराए। खंडवा में पिछले 12 दिनों से CAA और NRC के विरोध धरना दिया जा रहा हैं