Home > Crime > अफीम के बदले दी मौत ,किए भगवान के दर्शन ,खरीदी मारूति कार

अफीम के बदले दी मौत ,किए भगवान के दर्शन ,खरीदी मारूति कार

killingमंदसौर [ TNN ] पिपलियामण्डी थाने पर ग्राम काचरिया चन्द्रावत के सरपंच बाबुलाल चौधरी द्वारा सूचना दी कि बाबुखेडा के रास्ते पर रामलाल बावरी के कुए मे अज्ञात व्यक्ति की लाश तेर रही है। सूचना पर थाने पर मर्ग कायम कर तत्काल मौके पर पहुचकर कार्यवाही की गई लाश कुए से निकालने पर उसकी पहचान ग्राम बाबुखेडा के रूपचन्द पिता रतनलाल पाटीदार उम्र 45 साल के रूप में हुई। मृतक रूपचंद के गले मे उसी की बनियान से फंदा लगा हुआ था तथा उसके हाथ पर शर्ट से करीबन आठ दस किलो का पत्थर बन्धा हुआ था । मृतक रूपचन्द पाटीदार की लाश कुए से निकालने के बाद ही यह स्पष्ट प्रतीत हो रहा था कि मृतक के साथ मारपीट कर हत्या की गई और साक्ष्य छुपाने की नियत से लाश को कुए मे फेंक दिया । घटना के संबंध मे थाना पिपलिया मण्डी पर अपराध क्रमांक 274/14 धारा 302, 201 भादवि पजीबद्ध किया गया और तफ्सीस की गई तो पुलिस चौंक गई पुलिस को तफ्सीस में पता चला की रूपचन्द की मौत के पीछे अफीम का लेनदेन ही हत्या का मुख्य कारण था ।

पुलिस अधीक्षक मन्दसौर तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस मल्हारगढ़ ने इस पुरे मामले में एक टीम बनाकर सभी पहलुओ पर जांच की । पुलिस टीम द्वारा की गई विवेचना मे यह तथ्य आये कि प्रहलाद नामक व्यक्ति का घटना के दिन दो अन्य व्यक्तियो के साथ मृतक रूपचन्द पाटीदार के घर आया था ।यही से पुलिस को सुराग हाथ लगते गए पुलिस को पता चला की मृतक रूपचन्द पाटीदार एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण मे 10 वर्ष की सजा हुई थी। तब उसके साथ भेरवगढ़ जिला उज्जैन जेल मे अन्य एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण मे आरोपी प्रहलाद पिता मांगीलाल मालवीय उम्र 35 साल नि0 ग्राम नालीखेड़ा ने भी 10 वर्ष सजा काटी थी । वहीं से दोनो की मित्रता हुई थी। पिछले 4 साल से जेल से छुटने के बाद से इनकी घनिष्ट मित्रता हो गई ।
घटना के पूर्व मृतक रूपचन्द पाटीदार की मोबाईल से प्रहलाद पाटीदार से लगभग 23 बार लगातार बातचित हुई, उसके बाद से ही मृतक रूपचन्द पाटीदार के मोबाईल का स्वीच ऑफ हो गया था ।

इसी आधार पर संदिग्ध प्रहलाद मालवीय नालीखेड़ा को हिरासत मे लेकर पूछताछ की गई तो प्रहलाद मालवीय द्वारा वारदात मे अपने साड़ु भाई के लड़के महेश पिता सुरेश मालवीय नि0 बैलारा थाना पिपलिया मण्डी तथा ग्राम नालीखेड़ा के मुकेश पिता शंकरलाल बावरी उम्र 29 वर्ष का शामील होना बताया । तीनो ने मिलकर मृतक रूपचन्द पाटीदार को 4 किलो अफीम 80,000 रूपये प्रतिकिलो से देने का प्रलोभन देकर बाबुखेड़ा गांव के बाहर रात 9.30 बजे रामलाल बावरी के कुए पर रूपये लेकर बुलाया तथा अफीम के बदले एक थेली मे मिट्टी भरकर उपर से दिखाया और वहां रूपचन्द के रूपये लेकर आने पर 1,64,500 रूपये उससे छुड़ा लिये तथा रूपचन्द का गला घोंटकर, उसके बनियान का फंदा गले मे लगाकर मार डाला । मरने के बाद मे रूपचन्द पाटीदार के हाथ मे 10 किलो का भारी पत्थर बांधकर कुए मे फेंक दिया । उसकी मोटर सायकिलय एमपी 14 एमबी 4872 तथा मृतक का मोबाईल, टार्च अन्य कुए मे फेंक दी और वहां से भाग गये । तीनो ने 53-53 हजार रूपये आपस मे बांटे ओर फिर सांवरिया जी दर्षन करने गये वहां 5500 रूपये चढ़ाये और प्रहलाद मालवीय ने इन्दौर मे आटो डिल से 60,000 रूपये मे मारूति 800 एमपी 04 वी 2954 खरीदी जिसे आरोपी प्रहलाद मालवीय के कब्जे से दिनांक 25.06.14 को जप्त की गई ।

आरोपी प्रहलाद मालवीय, महेश मालवीय एवं मुकेश बावरी को हिरासत मे लिया गया। इनके कब्जे से घटना मे उपयोग मे लाई गई दो मोटर सायकिल पेशन प्रो तथा हीरो होण्डा डिलक्स जप्त कर ली गई है। महेश मालवीय एवं मुकेश बावरी से इनके हिस्से मे आई राशि जप्त की जाना है ।

रिपोर्ट : – प्रमोद जैन

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com