Home > India News > रामनवमी पर पश्चिम बंगाल में VHP को नहीं मिली बाइक रैली की इजाजत

रामनवमी पर पश्चिम बंगाल में VHP को नहीं मिली बाइक रैली की इजाजत

नई दिल्ली: रामनवमी के अवसर पर एक बार फिर पश्चिम बंगाल में सियासत गरमाने लगी है। कोलकाता पुलिस ने रामनवमी के मौके पर विश्व हिंदू परिषद की बाइक रैली को अनुमति देने से इनकार कर दिया है। पुलिस ने विहिप की इस बाइक रैली के शुरू होने के ठीक पहले अनमुति देने से इनकार दिया। इसको लेकर विहिप के कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है।

बाइक रैली की इजाजत पुलिस द्वारा इजाजत ना मिलने से विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं में नाराजगी देखने को मिली। विहिप सदस्यों ने भगवान राम की तस्वीर और भगवा झंडे के साथ स्थानीय रैली निकालने की कोशिश की। कोलकाता पुलिस ने रामनवमी के अवसर पर बाइक रैली के लिए विश्व हिंदू परिषद को अनुमति देने से इनकार कर दिया है। हालांकि, विहिप को पदयात्रा के लिए अनुमति दे दी गई है।

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रामनवमी के मौके पर विहिप बड़ा आयोजन करने वाला था और पूरे राज्य में करीब 700 रैलियां निकालने का प्लान था। पिछले साल रामनवमी के मौके पर हिंसा की खबरों के बाद बीजेपी सहित विपक्षी दलों ने ममता सरकार को आड़े हाथों लिया था। इसके पहले, सिलिगुड़ी में पुलिस ने राहुल गांधी के हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति नहीं दी थी, जिसके बाद कांग्रेस को चुनावी रैली स्थगित करनी पड़ी थी। पुलिस ने कहा था कि सुरक्षा कारणों से राहुल गांधी के हेलीकॉप्टर को उतरने नहीं दिया गया था।

चुनाव के समय में किसी भी प्रकार की तनावपूर्ण स्थिति से निपटने के लिए पुलिस ने पूरी तैयारी की है। आसनसोल एडीसीपी अनमित्रा दास ने सभी थानेदारों को बाइक रैली में भाग लेने वालों को रोकने का निर्देश दिया था। आसनसोल और वीरभूम में 29 अप्रैल को मतदान होने हैं। पुलिस का कहना है कि वीआईपी मूवमेंट के कारण सतर्कता बढ़ा दी गई है। आसनसोल में पीएम मोदी की जनसभा भी होनी है। ऐसे में पुलिस ने जगह-जगह चौकसी बढ़ा दी है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com