हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि ‘अंतरिम राहत के रूप में हम प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को दो लाख रुपये और मामूली चोटों वालों को 50,000 रुपये का भुगतान करेंगे।’

नई दिल्लीः केरल के कोझिकोड में करीपुर एयरपोर्ट पर शुक्रवार की शाम एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान लैंडिंग के दौरान फिसल गया और खाई में गिर गया। केंद्रीय नागरिक उड्डयन अधिकारियों और पेशेवरों के साथ विचार-विमर्श करेंगे।

हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि ‘अंतरिम राहत के रूप में हम प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को दो लाख रुपये और मामूली चोटों वालों को 50,000 रुपये का भुगतान करेंगे।’

पुरी ने कहा कि विमान को हमारे सबसे अनुभवी और प्रतिष्ठित कमांडर, कप्तान दीपक साठे द्वारा संचालित किया जा रहा था। वह इस वर्ष सहित 27 बार इस हवाई क्षेत्र पर उतरा था।

इससे पहले हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि ‘हादसे में दो पायलट समेत 18 लोगों की मौत हुई है, ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। 127 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। शुक्र है कि विमान में आग नहीं लगी।’

बता दें कि दुबई से आ रहे इस विमान में पायलट और क्रू मेंबर समेत 190 यात्री सवार थे। विमान में सवार यात्रियों में 128 पुरुष, 46 महिलाएं और 10 बच्चे थे। हादसे में 18 लोगों की मौत हुई है और 123 लोग घायल हुए हैं। वहीं, 15 लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

जानकारी के मुताबिक एयर इंडिया की दुबई-कालीकट उड़ान (IX-1344) शुक्रवार की शाम 7.41 बजे लैंडिंग करते वक्त फिसल गई। जानकारी के अनुसार यह हादसा बारिश की वजह से रनवे गीला होने के चलते हुआ। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने मामले की विस्तृत जांच का आदेश दिया है।

फिसलने के बाद विमान करीब 30 फीट गहरी खाई में जा गिरा। कोझिकोड का हवाई अड्डा भौगोलिक रूप से ‘टेबल टॉप’ है, मतलब हवाई पट्टी के इर्द-गिर्द खाई है। इसी कारण रनवे पर फिसलने के बाद विमान खाई में जा गिरा और दो टुकड़ों में बंट गया।

ताजा जानकारी के अनुसार बचाव अभियान पूरा हो गया है। घायलों को कोझिकोड मेडिकल कॉलेज और अन्य नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। भर्ती कराए गए सभी लोग गंभीर रूप से घायल हैं। उधर, अमेरिका ने केरल में हुए इस हादसे से प्रभावित हुए सभी लोगों के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट की हैं।