कुशीनगर : उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर हुए दर्दनाक हादसे को लेकर हंगामे का दौर जारी है। रेलवे क्रॉसिंग पर स्कूल वैन की ट्रेन से टक्कर में 13 बच्चों की मौत हो गई। इस घटना की जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तुरंत कुशीनगर पहुंच गए। हालांकि वहां उन्हें बच्चों के परिजनों और स्थानीय लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा। हालात ऐसे हो गए कि सीएम योगी कि वापस लौटना पड़ गया।

रेलवे क्रॉसिंग पर हुए दर्दनाक हादसे में बच्चों की मौत से स्थानीय लोगों में खासा आक्रोश देखने को मिला। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने भी लोगों ने जमकर नारेबाजी की। इस दौरान वहां काफी भीड़ थी, लोग रेलवे के खिलाफ भी नारे लगा रहे थे। नारेबाजी की वजह से हालात ऐसे हो गए कि सीएम योगी आदित्यनाथ को वहां से वापस लौटना पड़ा। हालांकि कुशीनगर में सीएम योगी ने हालात का जायजा लिया और उस अस्पताल भी पहुंचे, जहां घायल बच्चों को भर्ती कराया गया है। हालांकि सीएम योगी आदित्यनाथ उस जगह पर नहीं पहुंच सके जहां ये हादसा हुआ था।

दूसरी ओर दुदही रेलवे स्टेशन के पास मानव रहित क्रॉसिंग पर हुए हादसे पर सीएम योगी आदित्यनाथ गहरा दुख जताया। उन्होंने कहा कि मामले में लापरवाही करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि शुरूआती जानकारी के मुताबिक घटना में वैन चालक की लापरवाही ज्यादा लग रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि ड्राइवर ईयर फोन लगाकर स्कूल वैन चला रहा था।

कुशीनगर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घायल छात्रों और पीड़ितों के परिवार वालों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि फिलहाल मामले की जांच जारी है, जो जिम्मेदार होंगे, उनको छोड़ा नहीं जाएगा, जो हुआ है वो बहुत दुखद है, भगवान मृतकों के घरवालों को इस दुख से लड़ने की हिम्मत दे।