Lalu-Prasad-Yadav

पटना- राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने गुरुवार को आरएसएस एवं भाजपा पर तीखा हमला करते हुए कहा कि आरएसएस सामाजिक नफरत को फैलाने वाली फैक्ट्री है और भाजपा उसी के सिद्धांतों पर अमल करते हुए दलित विरोधी व आरक्षण विरोधी नीतियों को लागू करना चाहती है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा और आरएसएस मिलकर दलितों को उनके पहले वाली स्थिति में लाना चाहती है।  संघ के प्रमुख एमएस गोलवलकर की पुस्तक बंच ऑफ थॉट्स का हवाला देते हुए राजद प्रमुख ने आरएसएस और भाजपा पर जमकर निशाना साधा है। 

लालू प्रसाद ने कहा कि इस पुस्तक में लिखी बातों का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें लिखा गया है कि दलित अपनी मर्जी से मल-मूत्र और मैला ढोने का काम करता है और उन्हें इस काम में आध्यातमिक सुख मिलता है। 

राजद सुप्रीमो ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछना चाहते है कि अगर मल-मूत्र और मैला ढोने से सुख मिलता है तो पीएम मोदी इस काम को खुद क्यों नहीं करते है।  राजद सुप्रीमो ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए आगे कहा कि भाजपा और आरएसएस दोनों मिलकर आरक्षण को खत्म कर देना चाहते है। 

गोलवलकर जैसे अपने पुरखों के माध्यम से भाजपा इस काम में जुट गयी है। बंच ऑफ थॉट्स एवं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बीते दिनों आरक्षण पर दिये गये बयान से यह साफ हो गया है कि भाजपा दलित विरोधी है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here