Home > India > सेलिब्रेशन से लौट रहीं महिलाओं घर छोड़ेगी शिवसेना

सेलिब्रेशन से लौट रहीं महिलाओं घर छोड़ेगी शिवसेना

Shiv Sena मुंबई [ TNN ] हिंदुत्व का झंडा बुलंद कर महाराष्ट्र में सियासत कर रही शिवसेना ने साल 2015 के स्वागत से पहले ऐसा फैसला लिया है जिसकी उससे कम ही उम्मीद की जाती है। शिवसेना के साथ जुड़े टैक्सी और ऑटोरिक्शा ड्राइवरों को नए साल के सेलिब्रेशन से लौट रहीं महिलाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। मुंबई में शिवसेना की परिवहन ईकाई काफी मजबूत मानी जाती है।

शिवसेना के परिवहन ईकाई ‘शिव वाहतुक सेना’ के अध्यक्ष हाजी अराफात शेख ने बताया, ‘पूरे मंबई में ‘शिव वाहतुक सेना’ से जुड़े 16,000 ऑटो रिक्शा और 10,000 टैक्सी के ड्राइवर 31 दिसंबर की रात उनके लिए बनाए गए नियमों का पालन करेंगे। हम लोगों ने अपने सभी ड्राइवरों से कहा है कि 31 दिसंबर की रात यह उनका दायित्व है कि पार्टीज और सेलिब्रेशन से लौट रही लड़कियां अपने घरों तक सुरक्षित पहुंचे।’

शेख ने बताया कि ड्राइवरों से समाज-विरोधी तत्वों पर नजर रखने और पुलिस को तुरंत खबर देने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा, ‘शहर के सभी नुक्कड़ और इलाकों को जानने के कारण ऑटो और टैक्सी चालक शरारती तत्वों पर नजर रखने में कारगर साबित होंगे, ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए यह पहल हमने खुद से की है।’

परिवहन ईकाई के अध्यक्ष ने कहा कि ‘वाहतुक सेना’ महिला यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में ड्राइवरों को एक अहम पक्ष बनाकर हमारे बारे में प्रचलित धारणा को दूर करना चाहती है। उन्होंने कहा, ‘ कई बातों को लेकर ड्राइवरों की हमेशा आलोचना होती है। उन पर अधिक किराया लेने और यात्रियों को ले जाने से मना करने के आरोप लगते हैं लेकिन 31 दिसंबर की रात में सब कुछ बदल जाएगा। उनसे कम दूरी या अधिक दूरी, विशेषकर महिला यात्रियों को ले जाने से मना नहीं करने के लिए कहा गया है। यह उनका दायित्व है कि वे यात्रियों के उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाना सुनिश्चित करें।’

शेख ने कहा कि शिवसेना की पहल पर पुणे, नवी मुंबई, ठाणे के अन्य संगठनों ने सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की है और महिला और परिवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए चालक पुलिस के साथ मिल कर काम करेंगे।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com