खंडवा : खंडवा के हफीज हत्याकांड ने पुलिस को सवालों के कठघरे में खड़ा कर दिया हैं। जिसतरह से पुलिस ने इस हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने का दावा किया और जो अपराध की वजह बताई वह मृतक के परिजनों के गले नहीं उतर रही। अब हाफिज के परिजन पुलिस की कहानी पर सवाल खड़े कर रहे हैं। खंडवा पुलिस ने दावा किया की हत्या मामूली कहासुनी के बाद हुई लेकिन परिजनों और अन्य लोगों का आरोप हैं कि इस हत्या के पीछे का सच पुलिस छुपा रही हैं। आज परिजनों ने जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हत्यारों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग की ।

सोमवार के दिन खंडवा में दिनदहाड़े एक व्यक्ति को चाकू से गोद कर उसे गोली मार दी जाती हैं। पुलिस दिन भर शहर की खाक छानने के बाद भी खाली हाथ ही रहती हैं। हालांकि CCTV फुटेज के आधार पर दो संग्दिग्दो का वीडियो और फोटो पुलिस के हाथ लग जाता हैं। आरोपी भी अपने शातिराना तरीके से पुलिस से बचते हुए शहर से बहार चले जाते हैं। लेकिन फरार होते समय आरोपियों से एक गलती हो जाती हैं वह शहर के बहार एक गांव पर पुलिस चेकिंग में अपना सही मोबाईल नंबर देते हैं। बस यहीं से पुलिस को सुराग मिलता हैं। और आरोपी अगले दिन सुबह पुलिस की गिरफ्त में होते हैं। लेकिन पुलिस खुलासे में हत्या का जो कारण बताती हैं। उसपर कई सवाल खड़े हो जाते हैं। खंडवा पुलिस के मुताबिक हत्यारे मालगोदाम पर घूमने गए थे परिजनों का आरोप है की मालगोदाम कोई घूमने लायक स्थान नहीं हैं। अगर घूमने भी गए तो उनके पास हथियार कहा से और क्यों आए इसपर भी पुलिस कोई जवाब नहीं दे पाई। विवाद किस बात को लेकर हुआ यह भी पुलिस स्पष्ट नहीं कर पाई।

परिजन पुलिस की बताई कहानी से संतुष्ट नहीं हैं। आज परिजन जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हत्यारों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग करने लगे। परिजनों के साथ ही समाज के युवा भी वहां मौजूद थे समाजजन असफाक सिंघाड ने पुलिस की कार्यवाही पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा की हत्या का आरोपी सोशल मीडिया पर लगातार धर्म विशेष के खिलाफ लिखते आ रहे थे । असफाक सिंघाड के अनुसार आरोपियों की आर्थिक हालत ही ख़राब है तो उनके पास हथियार खरीदने के पैसे कहा से आए। साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि जब पुलिस ने उन्हें चेक किया तो उनके जेब से रुपयों का बंडल मिला उससे तो लगता हैं कि इस हत्याकांड के पीछे किसी और का हाथ हैं।

इधर परिजन भी हत्यारों को कड़ी सजा दिए जाने की मांग कर अपने लिए आर्थिक सहायता की मांग कर रहे हैं। परिजनो का कहना हैं कि हम पुलिस की बात से संतुष्ट नहीं हैं। जबतक हमें न्याय नहीं मिलेगा हम संतुष्ट नहीं होंगे।

फिलहाल पुलिस इस मामले में कोई भी कसर नहीं छोड़ रही है पुलिस हर पहलु पर जांच कर रही है जांच में दोनों आरोपियों के अलावा अन्य व्यक्तियों के शामिल होने की आशंका है ।

मालगोदाम पर हुई दिनदहाड़े सनसनीखेज हत्या के आरोपी 24 घंटे में गिरफ्तार

नो मोटिव फ़ॉर मर्डर ऑफ हफ़ीज़..

खंडवा : ड्राइवर हत्याकांड पर खड़े हुए सवाल !