Home > State > Delhi > प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मन की बात, 29वां संबोधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मन की बात, 29वां संबोधन

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर रेडियो पर ‘मन की बात’ के जरिए देश की जनता को संबोधित किया। हर महीने होने वाली ‘मन की बात’ में पीएम मोदी का ये 29वां संबोधन है।

प्रधानमंत्री मोदी बोले- गधे से प्रेरणा लेता हूं

क्या बोले पीएम मोदी-

-महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं।
-बेटियों के प्रति सोच बदल रही है।
-बेटी बचाओ एक जानांदोलन बना।

हम कुत्तों वाली परंपरा से पले-बढ़े नहीं हैं
-तमिलनाडु में बाल विवाह रोकने का काम हुआ।
-स्वच्छता और शौचालय को लेकर अवरोध तोड़ें।
-आईएएस अधिकारी ने टॉयलेट पिट साफ किया।
-ब्लाइंट टी-20 वर्ल्ड कप में भारत ने चैंपियन बनकर गौरव बढ़ाया।
-दिव्यांग सामर्थ्यवान,दृढ़-निश्चयी, साहसिक और संकल्पवान होते हैं।
-किसानों की मेहनत से इस साल रिकॉर्ड अन्न उत्पादन हुआ।
-इस साल लगभग 2 हजार 700 लाख टन से ज्यादा खाद्यान्न पैदा हुआ।
-किसान परंपरागत फसलों के साथ दालों की भी खेती करें।
-14 अप्रैल को बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती का पर्व है।
-बाबा साहेब को याद करते हुए लोगों को BHIM ऐप डाउनलोड करना सिखाएं।

स्वच्छ भारत को यह लोग कर रहे गंदा !

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने एक साथ 104 उपग्रहों को सफलतापूर्वक उनकी कक्षा में स्थापित कर इतिहास रच दिया। इससे देश का सिर गौरव से ऊंचा हुआ है. इसरो के नए सैटेलाइट्स से किसानों को मदद मिलेगी।

‘जन’ के मन की वह जाने पर उनके मन की ‘राम’

भारत ने रक्षा के क्षेत्र में भी बैलिस्टिक इंटरसेप्टर मिसाइल का परीक्षण किया है। इस मिसाइल ने परीक्षण के दौरान जमीन से 100 किलोमीटर की ऊंचाई पर दुश्मन की मिसाइल को ढेर कर सफलता पाई। दुनिया के चार या पांच ही देश हैं कि जिन्हें ये महारत हासिल है। भारत के वैज्ञानिकों ने ये करके दिखाया। इसकी ताकत है कि 2000 किलोमीटर दूर से भी भारत पर आक्रमण के लिए मिसाइल आती है तो ये मिसाइल अंतरिक्ष में ही उसको नष्ट कर देती है।

मोदी की रैली की यह दो घटनाएं सोशल मीडिया पर वायरल

हमारी युवा-पीढ़ी का विज्ञान के प्रति आकर्षण बढ़ना चाहिए. देश को बहुत सारे वैज्ञानिकों की जरूरत है।

हमारा समाज तकनीक से जुड़ रहा है. व्यवस्थाएं बड़ी तेजी से तकनीकि से जुड़ रही हैं। तकनीकि हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन रही है। डिजि-धन’ पर जोर दिया जा रहा है। लोग नकद से डिजिटल करेंसी की तरफ बढ़ रहे हैं। भारत में डिजिटल लेन-देने तेजी से बढ़ रहा है।

14 अप्रैल डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती का पर्व है और अभी-अभी बाबा साहेब अम्बेडकर की 125वीं जयंती गई है। उनका स्मरण करते हुए लोगों को भीम एप डाउनलोड करना सिखाएं। हमारे देश की अर्थव्यवस्था के मूल में कृषि का बहुत बड़ा योगदान है। गांव की आर्थिक ताकत, देश की आर्थिक गति को ताकत देती है।

किसानों के परिश्रम से इस साल रिकॉर्ड अन्न उत्पादन हुआ है। इस साल देश में लगभग 2 हजार 700 लाख टन से भी ज्यादा खाद्यान्न का उत्पादन हुआ है। किसान परंपरागत फसलों के साथ-साथ देश के गरीब को ध्यान में रखते हुए अलग-अलग दालों की भी खेती करें. ये सिर्फ दाल का उत्पादन नहीं है, किसानों के द्वारा हुई मेरे देश के गरीबों की सबसे बड़ी सेवा है।

रियो पारालंपिक में हमारे दिव्यांग खिलाड़ियों ने जो प्रदर्शन किया, हम सबने उसका स्वागत किया था। वर्ल्ड कप के फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराते हुए लगातार दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बन करके देश का गौरव बढ़ाया। दिव्यांग भाई-बहन सामर्थ्यवान,दृढ़-निश्चयी होते हैं, साहसिक होते हैं, संकल्पवान होते हैं और हर पल हमें उनसे कुछ-न-कुछ सीखने को मिल सकता है।

बता दें कि यूपी में विधानसभा चुनाव हो रही हैं. केंद्र सरकार को प्रधानमंत्री के ‘मन की बात’ के प्रसारण के लिए चुनाव आयोग से अनुमति लेनी पड़ी है। इससे पहले पीएम ने 29 जनवरी को ‘मन की बात’ की थी, जिसमें बच्चों की परीक्षा को लेकर चर्चा की थी। [एजेंसी]

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com