court case

लंदन के हाईकोर्ट ने एक अमीर पति और उसकी महा-अमीर पूर्व पत्नी को फटकार लगाकर आपस में सुलह करने की सलाह दी। इन दोनों का कसूर सिर्फ इतना था कि दोनों में केस को जीतने की सनक सवार थी और इस सनक में जितनी रकम के लिए दोनों केस लड़ रहे थे उससे कई गुणा ज्यादा रकम केस को लड़ने में ही खर्च कर बैठे।

मामला लंदन का है। लंदन हाईकोर्ट के मुताबिक इन दोनों का साल 2010 में तलाक हो गया था, लेकिन 61 साल के लॉरेंस सुलिवन और उनकी 45 वर्षीय पूर्व-पत्नी सैंड्रा सीग्रोव जबरन कोर्ट में पैसे फूंकते रहे। जस्टिस होलमैन ने कहा कि करीब दो दशक तक दोनों साथ रहे लेकिन फिर इनमें तलाक हो गया। सैंड्रा की मांग थी कि उन्हें लॉरेंस की संपत्ति में से आधा हिस्सा मिलना चाहिए जो भारतीय मुद्रा में करीब 4 करोड़ 26 लाख रुपए थी थी।

इतनी रकम को सीधे-सीधे देने में लॉरेंस आना-कानी कर रहे थे। जिस वजह से कोर्ट में चल रहे मामले को जीतने के लिए दोनों ने अलग होने के बाद कभी कर्ज लेकर तो कभी उधार लेकर केस लड़ा और मांगी गई रकम से कहीं ज्यादा पैसे गंवा दिये।

इन दोनों ने संपत्ति के बंटवारे के लिए जो लड़ाई लड़ी उसकी रकम 4 करोड़ 26 लाख थी, लेकिन लड़ते-लड़ते इसकी कीमत 12 करोड़ 61 लाख तक पहुंच गई। आखिरकार कोर्ट ने कहा कि दोनों को आपसी समझदारी से मामला खुद ही सुलझा लेना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here