Home > Crime > भारत में आतंकवाद से नहीं प्यार में मर रहे हैं लोग !

भारत में आतंकवाद से नहीं प्यार में मर रहे हैं लोग !

नई दिल्ली। भारत में पाकिस्तान प्रयोजित आतंकवाद ज्यादा है इस आतंकवाद ने कई जानें ली हैं लेकिन प्यार से ज्यादा नहीं। जी हां भारत में आतंकवाद से ज्यादा लोग प्यार के चलते मर रहे हैं।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 15 सालों में भारत में आतंकवाद से अधिक मौत प्यार के चलते हुईं हैं। इसके अलावा हत्या, हत्या के प्रयास और किडनेपिंग के मामलों के पीछे भी प्यार एक बड़ी वजह। एकतरफा प्यारा, प्यार में शादी या परिवार की नाराजगी भी मौतों के पीछे बड़ा कारण है।

2001 से 2015 के बीच प्यार के चलते भारत में 38,585 मामलों में हत्या, गैर इरादतन हत्या और अन्य अपराधों को अंजाम दिया गया। जबकि 79,189 लोगों ने प्यार में नाकामी और इससे जुड़ी दूसरी वजहों के चलते मौत को गले लगाया।

एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार इस दौरान ढाई लाख से ज्यादा ऐसे मामले दर्ज किए गए जिनमें महिलाओं का अपहरण शादी के लिए किया गया। भारत में प्यार या इससे जुड़े कारणों की वजह से हर दिन 7 हत्याएं, 14 आत्महत्याएं और 47 अपहरण की घटनाएं होती हैं। वहीं दूसरी तरफ इस दौरान आतंकी घटनाओं में 20 हजार लोगों की मौत हुई है।

यह राज्य हैं आगे – आंकड़ों के अनुसार प्यार के कारणों से जुड़े अपराधों में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और मध्य प्रदेश आगे हैं। इन राज्यों में 2001 से 2015 के बीच प्रेम प्रसंग के चलते 3000 से ज्यादा हत्याएं हुई हैं। वहीं आत्महत्या के मामले में पश्चिम बंगाल आगे है। @एजेंसी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com