Home > Crime > लखनऊ एनकाउंटर: जिसे स्टूडेंट समझा, वो निकला ISIS का संदिग्ध आतंकी

लखनऊ एनकाउंटर: जिसे स्टूडेंट समझा, वो निकला ISIS का संदिग्ध आतंकी

लखनऊ: लखनऊ के बाहरी इलाके ठाकुरगंज में एक घर में लगभग 13 घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद पुलिस ने एक संदिग्ध आतंकवादी को मार गिराया है. मुठभेड़ के बाद पुलिस को घर की तलाशी में एक संदिग्ध आतंकी का शव मिला है. शाम को पुलिस ने मकान में दो संदिग्धों के छिपे होने की शंका जाहिर की थी, लेकिन ऑपरेशन में केवल एक का शव ही मिला। यह संदिग्ध मध्य प्रदेश में हुए ट्रेन धमाके में शामिल बताया जा रहा है. मंगलवार की सुबह हुए इस धमाके में 9 लोग घायल हुए थे।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) दलजीत चौधरी ने बताया, ‘अंधेरा होने की वजह से उन्हें शंका थी कि घर में दो आतंकी हो सकते हैं, लेकिन पुलिस को एक ही शव मिला है. पुलिस को घर में से दो हथियार भी मिले हैं। ‘

स्टूडेंट समझा, वो ISIS का आतंकी निकला

11 घंटे की लंबी मुठभेड़ के बाद आखिरकार ने पुलिस ने संदिग्ध आतंकवादी को मार गिराया। पुलिस जब उस कमरे मे पहुंची, तो उसके पास हथियारों एवं बम बनाने का सामान देख कर चौक गई। जिस आतंकवादी को वह स्टूडेंट समझ रही थी, वह  एक आतंकवादी निकला। उस कमरे मे एसटीएफ को 650 जिंदा कारतूस, बड़ी मात्रा में विस्फोटक और विस्फोटक बनाने का सामान, भारत का नक्शा, भारतीय करंसी, 8 पिस्टल, बैट्री चार्जर, पासपोर्ट, माउस, छोटी घड़िया, चाकू, सोना, सिमकार्ड और IS का झंडा मिला।रेलवे के नक्शे के साथ ही पुलिस को कई पासपोर्ट और अन्य सामान मिले हैं। ये आतंकी सीरिया में बैठे अपने आकाओं से लगातार संपर्क में थे। पुलिस भी बरामद सामानों की जांच कर रही है। आतंकियों के पास अत्याधुनिक गैजेट मिले हैं। जिस मकान में सैफुल्लाह मारा गया है, वह आतंकियों का हाईड आउट था।

आतंक निरोधी दस्ते के वरिष्ठ अधिकारी असीम अरुण ने बताया, ‘हमने माइक्रो ट्यूब कैमरों की मदद से पूरे घर की जांच की थी। कैमरों से मिली तस्वीरें साफ न होने के कारण मकान में दो लोग होने का शक हुआ, लेकिन ऑपरेशन खत्म होने के बाद केवल एक ही लाश मिली है। मृतक की पहचान सैफुल्लाह के रूप में हुई है। ‘

ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों ने मकान की छत में छेद करके देखा तो उन्हें भी दो छवियां दिखाई दीं। इस ऑपरेशन में यूपी पुलिस के साथ 20 कमांडो भी शामिल थे। कमांडो कार्रवाई शाम साढ़े तीन बजे से शुरू हुई थी. शुरू में अधिकारियों की कोशिश थी कि इनको जिंदा ही पकड़ा जाए, ताकि ट्रेन धमाके में पूछताछ की जा सके।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने भोपाल में बताया कि होशंगाबाद के पिपरिया में गिरफ्तार किए गए तीन संदिग्धों से मिली जानकारी केंद्रीय जांच एजेंसियों से साझा की गई। केंद्रीय जांच एजेसी ने वह सूचना उत्तर प्रदेश पुलिस को दी और लखनऊ में पुलिस ने एक संदिग्ध आतंकी को घेर लिया।

उधर, केंद्र ने देश भर में अलर्ट जारी कर दिया है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने नई दिल्ली में संवाददाताओं से कहा, हम सतर्क हैं. हमने देश भर में अलर्ट जारी किया है।गौरतलब है कि यूपी में सात चरणों में हो रहे विधानसभा चुनाव के अंतिम दौर का मतदान कल होना है. मतगणना 11 मार्च को होगी।

रिपोर्ट @शाश्वत तिवारी/ इनपुट एजेंसी से भी 

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com