Home > India > आकाशीय कहर से तीन जिलों में 10 की मौत

आकाशीय कहर से तीन जिलों में 10 की मौत

dindori_Mandla_Rain_Effectभोपाल- मध्य प्रदेश में आकाशीय बिजली के कहर से तीन अलग-अलग जिलों में हुए हादसों में 10 लोगों की मौत हो गई। डिंडौरी में सबसे ज्यादा पांच लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी, जबकि मंडला में तीन और सिंगरौली में दो लोगों की मौत हुई। मध्य प्रदेश में इस सीजन में बाढ़, बारिश और आकाशीय बिजली के कहर से 190 से ज्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

मंडला में आसमान से बरसी आफत
मध्य प्रदेश में मंगलवार शाम को आसमान से बरसी आफत में मंडला में चाचा-भतीजे सहित तीन लोगों की मौत हो गई। बीजाहांडी थाना क्षेत्र के खैरानी गांव में खेत में काम करने के दौरान हुए हादसे में एक अन्य भी घायल हो गया।

डिंडौरी में फिर टूटा कहर
डिंडौरी जिले में 26 अगस्त को आकाशीय बिजली की चपेट में आने से चार लोगों की मौत के बाद मंगलवार को भी आसामान से आफत बरसी। जिले में अलग-अलग जगहों पर हुए हादसों में पांच लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी।

गाड़ासरई थाना क्षेत्र के खम्हरिया गांव में गाज गिरने से दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हो गए। इसी तरह समनापुर थाना क्षेत्र के टिकरियां गांव में दो बैगा आदिवासियों को भी प्राकृतिक आपदा का शिकार होकर अपनी जान गंवानी पड़ी। जिले में आठ अन्य लोग भी झुलस गए, जिनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

टिकरिया गाँव मे सात मवेशियों की मौत की खबर आई है बताया जा रहा है कि अचानक मौसम खराब होने के बाद खेतो मे काम कर रहे ग्रामीण पेड के नीचे छिप गये तभी बिजली पेड़ पर गिर गई। घटना की सूचना के बाद घायलो को उपचार के लिये स्वास्थ्य केंद्र में भेजा गया है। वहीँ टाकी नाला मे बाढ की वजह से गिरबरपुर से घायलो को लेकर आ रही एम्बूलेंस जाम मे फंस गई।

इस घटना के बाद प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को चार चार लाख रूपये देने की घोषणा की है।

घर के आंगन में मौत
सिंगरौली जिले के देवसर तहसील के अतरवा गांव में घर के आंगन में आकाशीय बिजली गिरने से सालिकराम और सुखमंती की मौत हो गई।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com