Home > India News > पुलिस हवाला जांच के लिए सक्षम नहीं- शिवराज सिंह चौहान

पुलिस हवाला जांच के लिए सक्षम नहीं- शिवराज सिंह चौहान

Shivraj Singh Chouhan

Shivraj Singh Chouhan

भोपाल- मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कटनी शहर में 500 करोड़ के हवाला रैकेट मामले की जांच के लिए प्रवर्तन निदेशालय से जांच की सिफारिश की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस हवाला मामले की जांच के लिए सक्षम नहीं है।

नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान सीएम ने किया बड़ा एलान

राजधानी भोपाल में सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में शामिल होने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, ‘तबादला एक सामान्य प्रकिया है। जहां तक एक्सिस बैंक का सवाल है, जांच जारी रहेगी।

एक ख़याल, जो कर गया कमाल

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘पुलिस के पास विशेषज्ञता नहीं है कि वह हवाला जैसे मामले की संपूर्ण जांच कर सके। बेहतर जांच ईडी कर सकती है। मैं सिफारिश करता हूं कि वो पूरी जांच अपने हाथ में ले, तब तक पुलिस जांच करती रहेगी।

रिवॉल्वर रानी ने दी सीएम शिवराज सिंह चौहान को धमकी

तीसरे दिन विरोध प्रदर्शन
कटनी शहर में एसपी गौरव तिवारी के तबादले के विरोध में लगातार तीसरे दिन प्रदर्शन जारी है। स्थानीय लोगों ने गुरुवार सुबह शास्त्री चौक पहुंचकर एसपी का तबादला निरस्त करने की मांग की है।

मंत्री, विधायक सभी बैंक खातों की डिटेल सार्वजनिक करेंगे

बता दें कि राज्य सरकार ने सोमवार देर शाम को एक आदेश जारी कर कटनी, छिंदवाड़ा और देवास एसपी का तबादला कर दिया था। लंबे समय तक मुख्यमंत्री की सुरक्षा में एसपी रहे और मौजूदा देवास एसपी शशिकांत शुक्ला को गौरव तिवारी की जगह कटनी एसपी बनाया गया है। गौरव तिवारी को छिंदवाड़ा एसपी पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

कांग्रेस का हाथ आतंकवादियों के साथ- शिवराज सिंह

एसपी की जांच में अहम खुलासा
कटनी जिले में कई फर्जी कंपनियों के नाम पर बैंकों में खाते हैं और इन खातों के जरिए बड़े पैमाने पर करोड़ों रुपयों का लेन-देन हुआ। इसकी एसआईटी जांच भी कर रही है। जांच के दौरान एसपी तिवारी ने भी इस बात का खुलासा किया था कि कई फर्जी खातों से करोड़ों का लेन-देन हुआ है।

मोदी का 56 इंच का सीना अब 100 इंच का हो गया

एसआईटी ने पिछले सप्ताह दो लोगों की गिरफ्तारी की थी, जिसके बाद घोटाले से सरावगी बंधुओं का कनेक्शन सामने आया था। सरावगी बंधु की शिवराज कैबिनेट में एक रसूखदार मंत्री से करीबी रिश्ते बताए जाते हैं।

मंत्री के दबाव में तबादला
गौरव तिवारी के बारे में दबे स्वरों में कहा जा रहा है कि कथित तौर पर एक मंत्री के दवाब में कटनी से छिंदवाड़ा स्थानांतरित कर दिया गया है, क्योंकि इस कथित मंत्री के हवाला कारोबार से जुड़े होने की बातें सामने आने लगी थी।

बीपीएल कार्डधारी को नोटिस से हुआ खुलासा
यह मामला तब सुर्खियों में आया जब गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले रजनीश तिवारी को आयकर विभाग का नोटिस आया था। रजनीश को एस.के. मिनरल्स का निदेशक बताते हुए बैंक में खाता खोला गया और उसके खाते से करोड़ों की रकम का ट्रांसफर हुआ, जिसके बाद लगातार एक के बाद एक खुलासे होते गए, जिसकी तपिश राजधानी के गलियारों में भी महसूस की जा रही थी। [एजेंसी]




Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .