Home > India > पहली बारिश में ही खुली नगर पालिका की पोल

पहली बारिश में ही खुली नगर पालिका की पोल

mandla rain

मंडला- मंडला में कुछ देर की बारिश ने ही शहर को पानी – पानी कर दिया। शुरूआती बारिश ने नगर पालिका की बारिश पूर्व तैयारियों की भी पोल खोल कर रख दी। नाले – नालियों की समुचित सफाई न होने से कुछ देर में ही विभिन्न इलाको में जल भराव की स्थिति निर्मित हो गई। रानी अवंती बाई वार्ड स्थित कलेक्टोरेट हाउसिंग सोसाइटी की सड़कों ने भी तालाब का रूप ले लिया। इस बारिश का बच्चों ने जमकर मज़ा लिया।



मंडला में दोपहर को हुई बहुप्रतीक्षित बारिश ने लोगों को गर्मी व उमस से कुछ राहत तो दी लेकिन इसके साथ ही बारिश लोगों की आफत का सबब भी बन गई। पिछले कुछ वर्षों के अनुभवों से सबक न लेते हुए नगर पालिका ने शहर में जल भराव को रोकने कोई ठोस उपाए नहीं किये जिसका खामयाजा शुरूआती बारिश में ही नागरिकों को उठाना पड़ा। रेड क्रॉस भवन, तहसील तिराहा, कलेक्टोरेट हाउसिंग सोसाइटी, हाउसिंग बोर्ड सहित कई इलाकों में पानी भराव की स्थिति निर्मित हो गई।

कलेक्टोरेट हाउसिंग सोसाइटी के नागरिकों ने बताया कि वो करीब ढाई – तीन दसकों से इस कॉलोनी में रह रहे है, लेकिन जल भराव की ऐसी स्थिति पिछले तीन साल से ही निर्मित हो रही है। पहले कई दिनों की बारिश में भी ऐसी स्थिति नहीं बनती थी। दरअसल नगर पालिका ने इस कॉलोनी से गुजरने वाले मुख्य नाले में शहर की सभी नालियों को जोड़ दिया है।

जब से नगर पालिका ने ज्ञान दीप, तहसील तिराहा, नेहरू स्मारक, सिविल लाइन्स की सभी नालियों को इससे जोड़ा है तब से कई जगहों पर पानी भराव होने लगा है। गहरी नालियां बनने से नालों का बैक वाटर तेजी से नली के जरिये कॉलोनी में फ़ैल जाता है। पिछले दो वर्षों से लगातार कलेक्टोरेट कॉलोनी सहित कई क्षेत्रों के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।



पिछले वर्ष जब कॉलोनी के कई घरों में भरा था तब नगर पालिका अध्यक्ष ने क्षेत्र का दौरा किया था। उस वक़्त उन्होंने लोगों को भरोषा दिलाया था कि कॉलोनी में पानी भरने की वजह का पता चल गया है। कुछ जगहों की नालियों को डाइवर्ट कर नाले का दबाव काम किया जायेगा। लेकिन नपा पूरे साल इस दिशा में कोई काम नहीं किया। क्षेत्रीय पार्षद को भी कई बार इस समस्या से अवगत कराया गया लेकिन कोई निदान नहीं हुआ।

रिपोर्ट:- @सैयद जावेद अली



Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com