भाजपा विधायक ने नर्स को थप्पड़ मारा

खंडवा [TNN] पंधाना से भाजपा की विधायक योगिता नवल सिंह पर सरकारी महिला अस्पताल में पहुंचकर एक नर्स को थप्पड़ मारने और दूसरी नर्सो के साथ झूमा झटकी का आरोप लगा। विधायक अपनी रिश्तेदार को डिलेवरी करवाने अस्पताल पहुंची थी। थप्पड़ के खिलाफ अस्पताल की सारी नर्से लामबंद हो गई और विधायक के खिलाफ शासकीय काम में बाधा पहुंचाने पर गिरफ्तार करने की मांग की। नर्सो ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को इस मामले में एक ज्ञापन भी सौंपा है।

आरोप अनुसार बुधवार सुबह लगभग 5 बजे पंधाना की विधायक योगिता नवलसिंह बोरकर अपनी भांजी रिंकु को डिलेवरी करवाने सरकारी महिला अस्पताल पहुंची। यहां ड्युटी पर तैनात नर्सो के बरताव से वह गुस्सा हो गई और उन पर ठीक तरह से मरीज की देखभाल नहीं करने का आरोप लगाया। इस दौरान एक नर्स प्रिंसी वर्गीस को उन्होंने थप्पड़ भी मारा और सस्पेंड कराने की धमकी दी।

इस घटना के बाद अस्पताल की सारी नर्से लामबंद हो गई और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को विधायक के खिलाफ कार्यवाही करने का ज्ञापन दिया। नर्सो के स्टाफ संगठन का कहना था कि अचार संहिता के दौरान विधायक ने अनावश्यक दबाव डाला और शासकीय काम में बाधा भी पहुंचाई। नर्सो ने उनकी गिरफ्तारी की मांग की है।

इस बारे में जब विधायक से पूछा तो योगिता नवलसिंह ने कहा कि किसी भी नर्स को थप्पड़ नहीं मारा और न ही कोई धमकी दी। उन्होंने कहा कि डिलेवरी के दौरान ड्यूटी नर्से इन्फेक्शन फैलने संबंधित सावधानी बरते बगैर ही गंदे टेबल पर डिलेवरी करवा रही थी इसका उन्होंने विरोध किया था। विधायक ने कहा कि नर्से अपने बचाव के लिए उन पर थप्पड़ मारने का आरोप लगा रही हैं।

सभी नर्सो ने सिविल सर्जन को अपनी सुरक्षा और विधायक के प्रति कार्यवाही करने संबंधी ज्ञापन सौंपा। अस्पताल प्रशासन ने भी वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एक जांच समिति बनाकर निष्पक्ष जांच कराने का भरोसा दिलाया।

खंडवा महिला अस्पताल में नर्सो पर मरीजों के प्रति लापरवाही बरतने के कई आरोप पहले भी लग चुके हैं लेकिन विधायक ने अपने पद की गरिमा का ध्यान रखे बगैर जो काम किया है वह भी कम गंभीर नहीं है।

@तुषार सेन