महाराष्ट्र: उद्धव ने सोनिया से की बात , Ncp- कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनना तय

नई दिल्ली/मुंबई: महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जल्द ही कोई बड़ा ऐलान हो सकता है। खबर है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को फोन पर बात कर समर्थन के लिए राजी कर लिया है। सूत्रों का कहना है कि शिवसेना को कांग्रेस विधायकों के समर्थन वाली चिट्ठी मिल गई है। हालांकि यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि कांग्रेस सरकार में शामिल होगी या नहीं।

टीवी रिपोर्ट्स की मानें तो शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी से फोन पर बात की है। ठाकरे ने सोनिया गांधी से महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए समर्थन मांगा है। इस बातचीत के बाद सोनिया गांधी शिवसेना को समर्थन देने के लिए राजी हो गई हैं। खबर है कि कांग्रेस ने जयपुर के रिजॉर्ट में रुके अपनी सभी 44 विधायकों से बातचीत की है। इस बातचीत में लगभग सभी विधायकों ने सेना को समर्थन देने की वकालत की है, साथ ही कहा है कि कांग्रेस को सरकार में शामिल भी होना चाहिए। सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस विधायकों ने कहा है कि स्थायी सरकार के लिए कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने की जगह सरकार में शामिल होना चाहिए।

चर्चा है कि यदि तीनों पार्टियों के बीच साथ चलने को लेकर सहमति बनती है तो अगली चर्चा सरकार के स्वरूप को लेकर होगी। खबर है कि सरकार में चार महत्वपूर्ण पद हैं, इसमें सीएम, डेप्युटी सीएम, विधानसभा स्पीकर और गृहमंत्री का पद शामिल है। सूत्रों का कहना है कि शिवसेना पांच साल के लिए सीएम पद संभालेगी, एनसीपी डेप्युटी सीएम पद लेगी, वहीं कांग्रेस विधानसभा स्पीकर का पद ले सकती है।

शिवसेना को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए राज्यपाल ने आज शाम 7:30 तक का समय दिया है। यदि इस समय तक शिवसेना की तरफ से कोई फैसला नहीं होता है तो इसकी पूरी संभावना है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगे। ऐसे में कांग्रेस पार्टी को यह फैसला जल्द लेना होगा कि वह शिवसेना का समर्थन करना चाहती है या नहीं।