मुंबई : महाराष्ट्र के किसानों के लिए बड़ी राहत की खबर है। राज्य सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने का फैसला लिया है। इसके लिए पैनल का गठन भी किया गया है, जो कर्जमाफी को लागू करने के लिए प्रारूप तैयार करेगा। सरकार के इस फैसले के बाद किसान नेताओं ने अब प्रदर्शन न करने का फैसला लिया है।

स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी ने बताया, ‘सरकार ने कर्जमाफी समेत अन्य कई मांगें पूरी करने का वादा किया है। ऐसा न होने पर 25 जुलाई से फिर से आंदोलन किया जाएगा।’

बता दें कि बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि या तो सरकार किसानों का कर्ज माफ करे या फिर मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहे। सीएम देवेंद्र फडणवीस भी काफी समय से किसानों से बात कर मामले को शांत करने की कोशिश कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के साथ-साथ मध्यप्रदेश में चल रहे किसानों के आंदोलन ने उग्र रूप ले लिया था, जिसके बाद स्थिति को नियंत्रित करना मुश्किल हो गया था।

ऐसे में माना जा रहा है कि एमपी के आंदोलन से सबक लेते हुए महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार ने पहले ही कर्जमाफी का ऐलान कर दिया। बता दें कि एमपी में किसान आंदोलन में पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत हो चुकी है।  इसके बाद राज्य के सीएम शिवराज सिंह चौहान 28 घंटों के लिए उपवास पर भी बैठे थे।