Home > India News > Make in Up:करोडो रु की 62 परियोजनाओं का लोकार्पण

Make in Up:करोडो रु की 62 परियोजनाओं का लोकार्पण

make-in-up-6796-million-in-62-projects-launchedलखनऊ – मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित एक समारोह में नवीन ओखला औद्योगिक विकास प्राधिकरण (नोएडा), ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण तथा यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण की लगभग 6796 करोड़ रुपए की 62 परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इन प्राधिकरणों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि आज जिन परियेाजनाओं की आधारशिला रखी गई है, उन्हें आगामी विधान सभा चुनाव से पहले पूरा किया जाए ताकि जनता को समय से इनका लाभ मिल सके। उन्होंने नोएडा में साईकिल ट्रैक, शिल्प हाट एवं बुनकर भवन तथा गे्रटर नोएडा की लोहिया पारिस्थितिकीय संरक्षण वन परियोजना को पूरी गुणवत्ता के साथ पूरा करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि नोएडा में निर्मित होने वाला शिल्प हाट एवं बुनकर भवन प्राधिकरण क्षेत्र के सर्वश्रेष्ठ निजी माॅल से बेहतर होना चाहिए।

नोएडा देश का सर्वोत्तम औद्योगिक क्षेत्र

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य को स्थाई विकास की ओर ले जाने का प्रयास कर रही है क्योंकि प्रदेश के विकास के बिना देश का विकास सम्भव नहीं है। आज कई हजार करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण इसी दिशा में किया गया एक ठोस प्रयास है। उन्होंने कहा कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण क्षेत्र देश की राजधानी दिल्ली के बेहद करीब हैं, जिसके कारण इनका महत्व और भी बढ़ जाता है। इन इलाकों में हो रहे औद्योगिक विकास और पूंजी निवेश का लाभ पूरे प्रदेश को मिलता है। इसलिए इन्हें 24ग7 ग्लोबल सिटी के तौर पर विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गेटर नोएडा का महत्व इसलिए और बढ़ गया है क्योंकि ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रेट काॅरिडोर से जुड़ने वाला यह देश का इकलौता शहर होगा।

राज्य में संसाधनों एवं बाजार की उपलब्धता के आधार पर ‘मेक इन यू0पी0’ पर बल देते हुए श्री यादव ने कहा कि ‘मेक इन इण्डिया’ अभियान को सफल बनाने के लिए प्रदेश का ध्यान रखा जाना जरूरी है। इस अभियान के लिए उत्तर प्रदेश सभी संसाधन उपलब्ध कराने में सक्षम है। राज्य में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी को प्रदेश की राजधानी से जोड़ने के लिए आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण प्रगति पर है। उन्होंने अवस्थापना विकास निधि के लिए और अधिक धनराशि की व्यवस्था करने पर बल दिया।

मुख्यमंत्री द्वारा नोएडा की 1094.69 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण किया गया। इसमें सेक्टर-30 में सुपर स्पेशियलिटी बाल चिकित्सालय एवं पोस्ट ग्रेजुएट संस्थान, सेक्टर-62 में 500 छात्राओं हेतु हाॅस्टल, सिंचाई नाले पर 6 पुल, नोएडा के मुख्य मार्गों पर 10 फुट ओवर ब्रिज, सेक्टर-94 से सेक्टर-168 ए तक सड़क मार्ग, सेक्टर-44 में एन0एम0आर0सी0 भवन, सेक्टर-137, 153 तथा 46 में 33/11 के0वी0 के विद्युत उपसंस्थान तथा नोएडा-गे्रटर नोएडा गौतमबुद्ध एक्सप्रेस-वे पर हाईवे ट्रैफिक मैनेजमेण्ट सिस्टम शामिल हैं।

इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने नोएडा के विकास के लिए 3246.96 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। इनमें सेक्टर-38 ए में मल्टी लेवल कार पार्किंग व व्यवसायिक केन्द्र, मास्टर प्लान मार्ग संख्या-2 पर एलीवेटेड रोड, कालिन्दी कुंज के पास यमुना नदी पर एकत्रित पुल, सेक्टर-105 में वृद्धाश्रम, अनाथालय एवं दादा-दादी पार्क, समाजवादी आवास योजना के तहत सेक्टर-117,118 एवं 122 में 2000 आवास, नोएडा स्टेडियम में 4000 दर्शक दीर्घा का इण्डोर स्टेडियम, शूटिंग रेंज, सेक्टर-33 ए में शिल्प हाट व बुनकर भवन शामिल हैं।

नोएडा के सेक्टर-71 व 135 में 2 नये थाना भवन, सेक्टर-96 में प्राधिकरण का मुख्य प्रशासनिक भवन, एम0पी0-1 मार्ग पर एलीवेटेड सड़क, बाॅटेनिकल गार्डेन स्टेशन से सेक्टर-18 तक एलीवेटेड काॅरिडोर, गंगा पेयजल परियोजना के तहत 37.50 क्यूसेक गंगा जल की आपूर्ति, सेक्टर-45, 38 ए, 63, 67 तथा 113 में विद्युत उपकेन्द्र, सेक्टर-94 में कमाण्ड कण्ट्रोल सेण्टर, सेक्टर-82 में सिटी बस टर्मिनल, सेक्टर-108 में ट्रैफिक पार्क, सेक्टर-91 में औषधि पार्क, मुख्य मार्गों पर साईकिल ट्रैक, सेक्टर-150 में शहीद भगत सिंह पार्क तथा सेक्टर-150 और 152 के बीच मार्ग का शिलान्यास भी मुख्यमंत्री ने किया।

मुख्यमंत्री ने गेे्रटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण की 413.03 करोड़ रुपए की विकास योजनाओं का लोकार्पण किया। इनमें 137 एम0एल0डी0 सीवेज शोधन संयत्र, गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में आॅडिटोरियम, इण्डोर स्टेडियम, 500 किलोवाॅट का रूफ टाॅप सोलर पावर प्लाण्ट, चिकित्सा विश्वविद्यालय से सम्बद्ध चिकित्सालय में 500 किलोवाॅट का रूफ टाॅप सोलर पावर प्लाण्ट, गौतमबुद्धनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का कार्यालय भवन, गौतमबुद्ध बालक इण्टर काॅलेज में आॅडिटोरियम, सावित्री बाई फुले बालिका इण्टर काॅलेज में आॅडिटोरियम तथा 1 मेगावाॅट का ग्रिड कनेक्टेड सोलर पावर प्लाण्ट शामिल हैं।

गे्रटर नोएडा की 1140.19 करोड़ रुपए की तमाम परियोजनाओं का शिलान्यास भी मुख्यमंत्री द्वारा सम्पन्न हुआ। इनमें लोहिया इन्क्लेव आवासीय योजना, गंगा जल परियोजना, 20 एम0एल0डी0 सीवेज शोधन संयत्र (एस0टी0पी0), 15 एम0एल0डी0 सीवेज शोधन संयत्र (एस0टी0पी0), पुलिस थाना नाॅलेज पार्क-1, सेक्टर ईकोटैक-1 एक्सटेंशन में एकीकृत पुलिस थाना एवं फायर स्टेशन, सेक्टर नाॅलेज पार्क-3 में गे्रटर नोएडा पुलिस थाना, सेक्टर ईकोटैक-3 में एकीकृत पुलिस थाना व फायर स्टेशन तथा लोहिया पारिस्थितिकीय संरक्षण वन सम्मिलित हैं।

श्री यादव ने यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण की 901 करोड़ रुपए लागत वाली विकास परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी। इनमें समाजवादी आवास योजना के तहत 1955 भवनों का निर्माण, सभी वर्गों के लिए 2 बी0एच0के0 के 768 भवन, सेक्टर-18, 24 तथा 22 डी में विद्युत उपकेन्द्र, सेक्टर-32 में आई0टी0आई0, यमुना एक्सप्रेस-वे तथा बाजना-नौहझील रोड के बीच प्रवेश और निकास रैम्प तथा प्राधिकरण क्षेत्र में साईकिल टैक का निर्माण शामिल है।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य सचिव आलोक रंजन ने कहा कि राज्य सरकार उत्तर प्रदेश में निवेश को आमंत्रित करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने प्रदेश के एन0सी0आर0 क्षेत्र में कराए जा रहे कार्यों का विवरण देते हुए कहा कि दिल्ली-मुम्बई इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर परियोजना के तहत गे्रटर नोएडा में 300 हेक्टेयर क्षेत्र को अर्ली बर्ड परियोजना के तौर पर विकसित किया जा रहा है, जिसमें लगभग 33,000 करोड़ रुपए का निवेश एवं 5,000 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलने का अनुमान है। इलेक्ट्राॅनिक उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए 100-100 एकड़ भूमि पर गे्रटर नोएडा तथा यमुना औद्योगिक विकास प्राधिकरण में इलेक्ट्राॅनिक्स मैनुफैक्चरिंग क्लस्टर डेवलप किए जा रहे हैं। तीनों प्राधिकरणों में इण्टेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेण्ट सिस्टम स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि साॅफ्टवेयर निर्यात में इस क्षेत्र का महत्वपूर्ण योगदान है।

प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास महेश गुप्ता ने स्वागत सम्बोधन में कहा कि राज्य में औद्योगिक विकास की असीम सम्भावनाएं हैं। पिछले 2 वर्षों में राज्य की विकास दर राष्ट्र की विकास दर से बेहतर रही।

धन्यवाद ज्ञापन नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा यमुना औद्योगिक विकास प्राधिकरण के चेयरमैन रमा रमन ने किया। इस अवसर पर प्रदेश के राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चैधरी, पर्यटन मंत्री ओम प्रकाश सिंह, बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री योगेश प्रताप सिंह ‘योगेश भइया’, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, सचिव पर्यटन अमृत अभिजात, महाराष्ट्र विधान सभा के विधायक अबु आसिम आज़मी आदि भी उपस्थित थे।

कार्यक्रम का सजीव प्रसारण भी किया गया, जिसे गे्रटर नोएडा स्थित गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के आॅडिटोरियम में मौजूद गणमान्य लोगों ने देखा।

रिपोर्ट :- शाश्वत तिवारी

 

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .