Home > India > हैरान करने वाली सेक्स वर्कर की लव स्टोरी

हैरान करने वाली सेक्स वर्कर की लव स्टोरी

Mandsaur Neemuch sex workar Love storyमंदसौर : कहते है की जब प्यार परवान पर चढ़ता है तो फिर इंसान कुछ भी करने को तैयार जाता है हो। सच यह भी है की प्यार जब होता है तो फिर वह किसी में भेद नहीं देखता है। हम आपको ऐसी ही हैरान करने वाली लव स्टोरी बताने जा रहे जिसे जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे। अब तक अपने फिल्मों में ही देखा होगा की देह व्यापर में लिप्त लड़की से हीरो को प्यार जाता है हो। लेकिन मध्य प्रदेश के इंदौर के समीप नीमच में ऐसा ही मामला देखने को मिला।

करीब 2 साल पहले डेरे में गए युवक ने जब देह व्यापार में लिप्त एक नाबालिग सेक्स वर्कर की कहानी सुनी तो वह हैरान रह गया। लड़की ने बताया कि उसके माता-पिता ही उससे यह सब करवाते हैं। कहानी सुनते-सुनते लड़के को उस लड़की से प्यार हो गया। 2 साल तक उसके बालिग होने का इंतजार करता रहा, जैसे ही वह बालिग हुई उसे जिल्लत की जिंदगी से निकालकर ले भागा। ये कहानी है सगरग्राम निवासी बांछड़ा समुदाय की एक 20 साल की लड़की है। फेसबुक ,वाट्स एप पर चल रहा था सेक्स रैकेट

रतलाम से लेकर नीमच तक इस फोरलेन मार्ग पर बाछड़ा डेरो में सेकड़ो लडकिया व महिलाये देह व्यापार में लिप्त हे कोई मज़बूरी में तो कोई खरीद फरोख्त कर लायी गई तो कोई परंपरागत किसी न किसी रूप में देह व्यापार कर रही है । ताजुब की बात तो ये की इन लड़कियों को कच्ची उम्र में ही इस धंदे के गुर सिखाए जाते हे और अगर कोई लड़की इसका विरोध करती है तो उसे खूब मारा पीटा जाता है और जबरन इस धंदे में झोंक दिया जाता है इन बाछड़ा डेरो में लड़कियां पैदा होने पर खुशिया मनाई जाती है और इनको छोटी उम्र में ही इस धंदे में उतरने के लिए दवाइयां दी जाती है ताकि वे छोटी उम्र में ही शरीर से जवान दिखे फिर पहली रात की बोली लगाई जाती है और बोली कोई और नहीं खुद लड़की के माँ बाप ही बोली लगाते है और जो ज्यादा पैसे देता है उस रात के लिए उस आदमी के साथ लड़की को छोड़ दिया जाता है।

बता दे नीमच और उसके आसपास एक ख़ास समुदाय के लोग अपने परिवार की लड़कियों से ही देह व्यापार कराते हैं। उन लड़कियों को बहुत छोटी उम्र में ही सेक्स वर्कर के तौर पर देह व्यापर के काले कारोबार में उतार दिया जाता है। उनकी माँ या बाप ही उसकी पहली रात की बोली लगवाते हैं और ग्राहक को रुकने की जगह भी वही मुहैया कराते हैं.जिस परिवार की लड़की ये काम न करना चाहे उसे परिवार के लोग ही मिलकर पीटते हैं। लड़की ने बताया कि मेरे माता-पिता 2 साल से मुझसे देह व्यापार करा रहे थे। परेशान होकर मैंने गांव के ही एक युवक से खरगोन में शादी कर ली। मैं युवक से 3 साल से प्यार करती थी। खरगोन में शादी के बाद मैं पति के गांव आ गई। यहां मेरे माता-पिता और मामा ने मेरे साथ मारपीट की। उन्होंने पति से 50 हजार रुपए भी ले लिए। इसके बाद भी मेरे माता-पिता हमें परेशान कर रहे है ।इसलिए पीरियड्स के दिनों में सेक्स करना चाहिए

लड़के ने बताया कि हमारी प्रेम कहानी 2 साल पहले नीमच के एक डेरे से शुरू होती है। एक दिन मैं ऐसे ही डेरे जा पहुंचा। जहां मेरी मुलाकात इस लड़की से हुई। उस दौरान यह नाबालिग थी। जब मैं उसके साथ बैठा और उसकी कहानी सुनी तो मेरे रोंगटे खड़े हो गए। उसने बताया कि उसके परिजन ने जबरदस्ती उसे इस धंधे में धकेला है। यदि वह मना करती है तो उसे प्रताड़ित किया जाता है। ना चाहते हुए भी वह यह कर रही है। फिर क्या था मैं टोह लेने डेरे में आने-जाने लगा। चूंकि लड़की नाबालिग थी, इसलिए उसे भगाकर भी नहीं ले जा सकता था। मैंने दो साल तक इंतजार किया। लड़की जैसे ही बालिग हुई उन्होंने भागने का प्लान बनाया। इसके लिए हमने नीमच के एक एनजीओ की मदद ली। जैसे-तैसे खरगोन पहुंचे। 26 अप्रैल को हमने खरगोन में एक मंदिर में शादी की। लेकिन लड़की को दर है की उसके माँ-बाप और परिवार के लोग उन्हें जान से मार देंगे इसलिए वह एसपी के पास सुरक्षा की गुहार लगने पहुंची।

रिपोर्ट @ प्रमोद जैन




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com