Home > India News > ‘मन की बात’ में बोले PM : मध्य प्रदेश के भज्जू श्याम का पूरे विश्व में सम्मान

‘मन की बात’ में बोले PM : मध्य प्रदेश के भज्जू श्याम का पूरे विश्व में सम्मान

नई दिल्ली: रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेे देशवासियों से रेडियो के माध्यम से ‘मन की बात’ कार्यक्रम में कहा कि इस वर्ष गणतंत्र दिवस बहुत ही उत्साह के साथ मनाया गया और इतिहास में पहली बार 10 देशों के मुखिया इस समारोह में उपस्थित हुए। मेरे प्यारे देशवासियो, मैं आज श्रीमान प्रकाश त्रिपाठी ने नरेंद्र मोदी एप पर एक लम्बी चिट्ठी लिखी है। उन्होंने कहा कि आज हम बेटी बचाओ बेटी पढाओ की बात करते हैं लेकिन सदियों पहले हमारे शास्त्रों में, स्कन्द-पुराण में कहा गया है कि एक बेटी दस बेटों के बराबर है। उन्होंने कहा कि यह अत्यंत दुःख की बात है कि हमने कल्पना चावला को इतनी कम उम्र में खो दिया लेकिन वह पूरे विश्व में, ख़ासकर भारत की हज़ारों लड़कियों को यह संदेश दिया कि नारी-शक्ति के लिए कोई सीमा नहीं है। उन्होंने कहा कि अब नारी नेतृत्व कर रही हैं और इसके कई उदाहरण भी उन्‍होंने दिए । ‘मन की बात’ कार्यक्रम की 40वीं कड़ी के साथ यह इस साल का उनका पहला कार्यक्रम हैै।

तीन बहादुर महिलाएं फायटर पायलट
उन्होंने कहा कि चाहे वैदिक काल की विदुषियां लोपामुद्रा, गार्गी, मैत्रेयी की विद्वता हो या अक्का महादेवी और मीराबाई का ज्ञान और भक्ति हो, चाहे अहिल्याबाई होलकर की शासन व्यवस्था हो या रानी लक्ष्मीबाई की वीरता, नारी शक्ति हमेशा हमें प्रेरित करती आयी है। उन्होंने कहा कि तीन बहादुर महिलाएं भावना कंठ, मोहना सिंह और अवनी चतुर्वेदी फाइटर पायलट बनी हैं और सुखोई 30 में प्रशिक्षण ले रही हैं।

माटुंगा स्टेशन भारत का ऐसा पहला स्टेशन है जहां सारी महिला कर्मचारी
पीएम मोदी ने कहा कि हर क्षेत्र में फस्‍ट लेडी हमारी नारी-शक्तियों ने समाज की रूढ़िवादिता को तोड़ते हुए असाधारण उपलब्धियां हासिल की, एक कीर्तिमान स्थापित किया.उन्‍होंने कहा कि मुंबई का माटुंगा स्टेशन भारत का ऐसा पहला स्टेशन है जहां सारी महिला कर्मचारी हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ का दंतेवाड़ा इलाक़ा, जो माओवाद-प्रभावित क्षेत्र है । हिंसा, अत्याचार, बम, बन्दूक, पिस्तौल- माओवादियों ने इसी का एक भयानक वातावरण पैदा किया हुआ है। ऐसे ख़तरनाक इलाक़े में आदिवासी महिलाएं, ईरिक्शा चलाकर आत्मनिर्भर बन रही हैं।

प्रधानमंत्री जन-औषधि योजना : ग़रीब व्यक्ति को सस्ती स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करना
मन की बात में पीएम मोदी ने कहा कि पिछले दिनों माननीय राष्ट्रपति जी ने महिलाओं के एक समूह से मुलाकात की जिन्होंने समाज की रूढ़िवादिता को तोड़ते हुए असाधारण उपलब्धियां हासिल की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के पीछे उद्देश्य है हेल्थ केयर को उपयोगी बनाना है और देश के ग़रीब से ग़रीब व्यक्ति को गुणवत्ता पूर्ण और सस्ती स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध हो। जन-औषधि केन्द्रों पर मिलने वाली दवाएं बाज़ार में बिकने वाली दवाइयों से लगभग 50-90 प्रतिशत तक सस्ती हैं। सस्ती दवाइयां प्रधानमंत्री भारतीय जन-औषधि केन्द्रों,अस्पतालों के ‘अमृत स्टोर’ पर उपलब्ध हैं । उन्होंने कहा कि मुझे पता चला कि अकोला के नागरिकों ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत मोरना नदी को साफ़ करने के लिए स्वच्छता अभियान का आयोजन किया था.उन्होंने कहा कि मिशन क्लीन मरोना के इस नेक कार्य में अकोला के छह हज़ार से अधिक नागरिकों, सौ से अधिक एनजीओ, कॉलेज, छात्रों बच्चे, बुजुर्ग, माताएं-बहनें हर किसी ने इसमें भाग लिया ।

बीएसएफ बाइकर कंजेंटेंट की महिलाओं नेे आश्चर्यचकित किया
पीएम मोदी ने कहा कि बीएसएफ बाइकर कंजेंटेंट की महिलाओं द्वारा किया गया साहसपूर्ण प्रयोग, विदेश से आये हुए मेहमानों को भी आश्चर्यचकित कर रहा था। उन्होंने कहा कि आपने नाम सुना होगा मध्य प्रदेश के भज्जू श्याम के बारे में, वे जीवन यापन के लिए सामान्य नौकरी करते थे लेकिन उनको पारम्परिक आदिवासी पेंटिंग बनाने का शौक था । आज इसी शौक की वजह से इनका भारत ही नहीं, पूरे विश्व में सम्मान है ।

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की 75 वर्षीय सुभासिनी मिस्त्री को भी । उन्हें पुरस्कार के लिए चुना गया. सुभा सिनी मिस्त्री एक ऐसी महिला हैं, जिन्होंने अस्पताल बनाने के लिए दूसरों के घरों में बर्तन मांजे, सब्जी बेची । पीएम मोदी ने कहा कि बिहार में एक रोचक पहल की गयी, राज्य में सामाजिक कुरीतियों को जड़ से मिटाने के लिए 13 हज़ार से अधिक किलोमीटर की विश्व की सबसे लम्बी मानव-श्रृंखला बनाई ।

गौरतलब है ‘मन की बात’ आकाशवाणी पर प्रसारित किया जाने वाला एक कार्यक्रम है जिसके जरिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत के नागरिकों को संबोधित करते हैं। इस कार्यक्रम का पहला प्रसारण 3 अक्तूबर 2014 को किया गया था। जनवरी 2015 में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी उनके साथ इस कार्यक्रम में भाग लिया था तथा भारत की जनता के प्रश्नों के उत्तर दिए थे।

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .