Home > Crime > 8 महिलाओ से मनाई सुहागरात बनाए 4.5 करोड़ रुपए फिर !

8 महिलाओ से मनाई सुहागरात बनाए 4.5 करोड़ रुपए फिर !

पुलिस की जांच में पता चला है कि पुरुषोत्तम ने दक्षिण भारत की एक मैट्रीमोनियल डेटिंग साइट के जरिए पीड़िताओं के संपर्क में आया था। पहले उसने महिलाओं से दोस्ती की और फिर शादी। लेकिन उसने शादी करना ही अपना धंधा बना लिया था और बदल बदलकर महिलाओं से शादी कर उन्हें अपने प्लान के मुताबिक चूना लगाने लगा।

ट्रक ट्रांसपोर्ट के व्यापार में ज्यादा फायदा न होता देख एक शख्स को जल्‍दी से पैसा कमाने का जो तरीका निकाला वह हैरान करने वाला है। तमिनाडु के एक शख्स ने एक के बाद एक 8 महिलाओं से शादी की और उनसे 4.5 करोड़ रुपए बनाए। महिलाओं से उनकी कमाई ठगने के बाद आरोपी ने सभी को छोड़ दिया।

लेकिन मामले का खुलासा तब हुए जब चेन्नई की रहने वाली इंदिरा गांधी नाम की एक महिला इस ठगी का शिकार हुई और पुलिस में शिकाय की। महिला एक कॉलेज में लेक्चरर है और उसने अपने पति को छोड़कर आरोपी पुरषोत्तम के प्यार में पड़ गई थी। महिला ने कुछ दिन बाद ही पुरुषोत्तम से शादी करने का फैसला कर लिया। शादी के कुछ दिन बाद ही 57 साल के पुरुषोत्तम ने इंदिरा गांधी को सलाह दी वह अपना चेन्नई का मकान बेच दे जिससे किे दोनों फिर कोयंबटूर में रह सकें।

प्रेमी से पति बने पुरुषोत्तम पर इंदिरा को इतना भरोसा हो गया कि वह उसकी बात पर एक बार भी शक नहीं किया। जीवनभर की कमाई से खरीदे मकान को उसने डेढ़ करोड़ में बेच डाला। लेकिन जैसे ही उसने पुरुषोत्तम के खाते में पैसे ट्रांसफर कराए वैसे ही पुरुषोत्तम वहां से गायब हो गया। इसके बाद इंदिरा एक दो दिन तक पुरुषोत्तम से संपर्क करने की कोशिश और अंत उसने पाया कि वह अब न सिर्फ अपनी जीवन की पूरी कमाई खो चुकी है बल्कि अपना घर और पति दोनों को खो चुकी है।

लेकिन इंदिरा ने हार नहीं मानी और आरोपी शख्स के खिलाफ पुलिस में शिकायत करने का फैसला किया। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि पुरुषोत्म ने सिर्फ इंदिरा को ही चूना नहीं लगाया बल्कि उससे शादी करने से पहले इसी तरह वह तीन और महिलाओं को चूना लगा चुका है।

इतना ही नहीं इंदिरा से शादी करने के बाद उसने चार और महिलाओं से शादी की और उनके पैसे एंठने के बाद सभी को छोड़ चुका था। लेकिन उसने अमीर महिलाओं से शादी करने का जो तरीका अपनाया था वह हैरान करने वाला है।

शनिवार को तीन और महिलाओं ने आरोपी पुरुषोत्तम के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया और पुलिस को बताया कि पुरुषोत्तम ने उनसे ठगी कर उन्हें भिखारी बना दिया है। उन्होंने बताया कि आरोपी ने तीनों से करीब 4.5 करोड़ रुपए की ठगी की है।

पुलिस को जांच में पता चला है कि पुरुषोत्तम का गांधीपुरम में ट्रक ट्रांसपोर्ट का एक ऑफिस है और वह वेल्लोर में अपनी बुजुर्ग मां और बेटी के साथ रहता है। उसकी पत्नी कुछ साल पहले गुजर चुकी है। वह हाईप्रोफाइल महिलाओं को शिकार बनाता था। अनुमान है कि आरोपी पुरुषोत्तम ने अब तक धोखाधड़ी के 18 अपराध कर चुका है।

डेटिंग साइट से मिली थीं महिलाएं
पुलिस की जांच में पता चला है कि पुरुषोत्तम ने दक्षिण भारत की एक मैट्रीमोनियल डेटिंग साइट के जरिए पीड़िताओं के संपर्क में आया था। पहले उसने महिलाओं से दोस्ती की और फिर शादी। लेकिन उसने शादी करना ही अपना धंधा बना लिया था और बदल बदलकर महिलाओं से शादी कर उन्हें अपने प्लान के मुताबिक चूना लगाने लगा।

मामला पुलिस में देर होती तो पुरुषोत्तम एक और महिला से शादी करने वाला था। और उसके साथ जिंदगी सेटल करना चाहता था। पुलिस ने दोनों की पहचान मोहन और वानजा कुमारी के रूप में की है। पुलिस दोनों के खिलाफ मामले दर्ज कर लिया है उनकी तलाश में छापेमारी कर रही है।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com