नई दिल्ली: दिल्ली में महानगर पालिका के 270 वार्डों लिए वोटिंग जारी है। एमसीडी चुनाव में बीजेपी, कांग्रेस और आप में कड़ी टक्कर है. लेकिन, दिल्ली के वोटरों में उत्साह की कमी देखी जा रही है। दोपहर 2 बजे तक महज़ 35 फीसदी वोटिंग हुई है।

मतदान सुबह आठ बजे से शुरू से शाम 5.30 बजे तक चलेगा। दिल्ली में कुल 272 वार्ड हैं लेकिन दो वार्ड में उम्मीदवारों की मौत के चलते चुनाव रद्द कर दिया गया है।

एमसीडी चुनाव में करीब एक करोड़ 32 लाख मतदाता आज 2315 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे। चुनाव के नतीजे 26 अप्रैल को आएंगे।

दिल्ली में तुगलकाबाद, जामिया नगर, संगम विहार, सीमापुरी, सीलमपुर,नजफगढ़, मुंडका, संल्तानपुरी और नांगलोई जैसे इलाकों में एक हजार 468 मतदान केन्द्र अतिसंवेदनशील हैं। वहीं राज्य चुनाव आयुक्त एस के श्रीवास्तव का दावा एमसीडी में EVM-1 से वोटिंग होगी। ईवीएम मशीनों को उम्मीदवारों के सामने भी जांचा जा चुका है। चुनाव संपन्न कराने के लिए एक लाख कर्मचारी मतदान केंद्र पर मौजूद रहेंगे।

एमसीडी का गठन 1958 में हुआ था. दिल्ली का 96% हिस्सा एमसीडी के अंतर्गत आता है। 2011 में इसके तीन हिस्से कर दिए गए। फिलहाल उत्तरी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली के लिए तीन अलग-अलग निगम हैं।