MP : छात्रा से गैंगरेप के विरोध में रतलाम में तनाव. पुलिस प्रशासन अलर्ट

रतलाम : शहर के एक स्कूली छात्रा से गैंगरेप के विरोध में रतलाम के लोग गुस्से में हैं। विरोध में शहर के सभी स्कूल कॉलेज आज बंद हैं। आक्रोश से भरे हज़ारों लोग और सामाजिक संगठन के लोगों ने सड़क पर उतरकर विरोध जताया।

आरोपी, छात्रा के साथ पढ़ने वाले नाबालिग दोस्त हैं। इस मामले में अब तक दो आरोपियों और उनकी मदद करने वाले दो अन्य लोगों को गिरफ़्तार कर लिया गया है।

रतलाम के एक प्रतिष्ठित निजी स्कूल की छात्रा के साथ गैंगरेप मामले में जमकर हंगामा हो गया। आक्रोशित लोगों ने स्कूल पर पथराव कर दिया और एक पुलिस कर्मी की पिटाई भी कर दी।

उसके बाद पुलिस ने आक्रोशित लोगों पर हल्का बल प्रयोग कर भीड़ को तीतर बितर किया। गुस्से से भरे लोग निजी स्कूल में आरोपियों का पुतला जलाने पहुंचे थे। उसी दौरान हंगामा हो गया। आक्रोशित लोगों ने यहां पुलिस वाले को पीट दिया।

रतलाम के एक प्रतिष्ठित स्कूल की नाबालिग छात्रा से गैंगरेप का मामला तूल पकड़ रहा है। लोगों में ज़बरदस्त नाराज़गी है। एबीवीपी कार्यकर्ता आज सुबह स्कूलों को बंद करवाने निकले लेकिन सभी स्कूल स्वेच्छा से ही बंद हैं।

शहर में आज विभिन्न सामाजिक संगठन पैदल मार्च निकाल कर आरोपियों का पुतला जलाएंगे। माहौल को देखते हुए पुलिस प्रशासन अलर्ट पर है और स्कूलों के पास सुरक्षा बढ़ा दी गयी है।

इस मामले से जुड़े चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुस्से से भरे लोग आरोपियों को फांसी की मांग कर रहे हैं।

गैंगरेप का मुख्य आरोपी पीड़ित लड़की की क्लास में पड़ने वाला छात्र है। वो खुद भी नाबालिग है। जिसने अपने एक साथी के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया।

बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र ने पीड़िता के फोटो दिखाकर उसे ब्लैकमेल कर पैसे भी ऐंठे। बाद में अपने नाबालिग दोस्त के साथ, पीड़िता के घर जाकर उसके साथ गैंगरेप किया।

छात्र के दोस्त ने 10 दिन बाद पीड़िता को फिर ब्लैकमेल कर एक निजी होटल में बुलाया और फिर से रेप किया। लड़की की तबियत बिगड़ने पर मामले का ख़ुलासा हुआ।

मामले का ख़ुलासा होने के बाद पीड़ित लड़की की शिकायत पर परिवार ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करायी।

पुलिस ने दोनों आरोपी नाबालिग छात्रों के ख़िलाफ बलात्कार और पाक्सो एक्ट के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इस घटना के बाद पेरेंट्स खौफज़दा हैं और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ भी जनता में खासा आक्रोश है। |

मामला सामने आने के बाद एबीवीपी ने जमकर हंगामा किया। आरोपियों पर कड़ी करवाई की मांग को लेकर एबीवीपी ने दो घंटे तक दो बत्ती थाने के सामने चक्काजाम कर दिया।