Sonia-Gandhi
Sonia-Gandhi

नई दिल्ली – कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मोदी केवल अपनी मार्केटिंग में लगे हुए हैं और उन्होंने जमीनी स्तर पर कोई काम नहीं किया। यह बातें उन्होंने कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में कहीं। इस बैठक में यह भी फैसला हुआ कि कांग्रेस केंद्र सरकार के खिलाफ अपना विरोध जारी रखेगी।

सोनिया गांधी ने बैठक में कहा कि नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ कार्यक्रम के चैम्पियन हैं लेकिन भ्रष्टाचार के मुद्दों पर बात करने पर मौन व्रत धारण कर लेते हैं। मोदी पूर्व के यूपीए सरकार के कामों को नया कलेवर देकर अपने नाम से मीडिया में पेश कर रहे हैं। उन्हें सुर्खियां बटोरना पसंद है इसलिए वह खबरों का अच्छा प्रबंधन करते हैं।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने ही ‘पहले इस्तीफा, बाद में चर्चा’ के मुद्दे की शुरुआत की थी और सदन की कार्यवाही नहीं चलने दी थी। अब जब उनके नेता भ्रष्टाचार के मुद्दों में फंसे हैं तो उन्हें भी पहले इस्तीफा देना चाहिए इसके बाद ही सदन की कार्यवाही चलेगी।

गौरतलब है कि हंगामे की वजह से पिछले डेढ़ हफ्ते से लगातार सदन की कार्यवाही स्थगित हो रही है। कांग्रेस ने सदन में भी साफ कर दिया है कि जब तक ललितगेट मामले में सुषमा स्वराज और व्यापम घोटाले में घिरे शिवराज सिंह चौहान अपना इस्तीफा नहीं दे देते तब तक सदन में गतिरोध जारी रहेगा।

सोनिया ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने जनता से जो वादे किए हैं वो उन्हें पूरा करने में नाकाम रहे हैं। बहुमत होने के कारण वह संसद में बिल पेश करने के बजाय अध्यादेश लाकर काम चला रहे हैं जो उनके घमंडी रवैये को दर्शाता है। उन्होंने पंजाब के गुरदासपुर में हुए आतंकी हमलों पर निशाना साधते हुए कहा कि यह नरेंद्र मोदी हैं जिन्होंने 2008 में हुए मुंबई हमलों के लिए देश के तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह का साथ देने के बजाय उन पर निशाना साधा था।

उन्होंने कहा कि आज जब उनके राज में आतंकी हमला हुआ है तो वो विपक्ष से सहयोग की उम्मीद कर रहे हैं। सोनिया गांधी के सख्त तेवरों से यह बात तो साफ हो गई है कि कांग्रेस किसी कीमत पर संसद की कार्यवाही नहीं चलने देगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here