एक बार फिर सरकार के खिलाफ गुर्जर आंदोलन शुरू हो गया है। गुर्जर समुदाय के लोग आरक्षण की मांग को लेकर सवाई माधोपुर के पास ट्रैक पर बैठ गए हैं।

गुर्जर समाज द्वारा आरक्षण के लिए दी गई समय सीमा खत्म होने के बाद किरोड़ी सिंह बैंसला ने रेलवे ट्रैक पर बैठने का एलान किया है।

बैंसला ने कहा कि वह खुद सबसे आगे रहेंगे जबकि युवा पीछे रहेंगे। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन शांति पूर्ण तरीके से किया जाएगा।

इसके बाद रेलवे ने दिल्ली-मुंबई रेल ट्रेक पर ट्रेनों को रोक दिया है। यह एलान सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में चौहानपुरा-मकसूदनपुरा में देवनारायण मंदिर पर महापंचायत के दौरान लिया गया है। वहीं सवाई माधोपुर गंगानगर में भी ट्रेनों को आगे जाने से रोक दिया गया है।

बता दें कि गुर्जर समाज की ओर से शुक्रवार से आरक्षण आंदोलन के आह्वान को देखते हुए राजस्थान के 14 जिलों में पहले ही हाई अलर्ट कर दिया गया है।

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने राजस्थान सरकार को ‘अबकी बार, आखिरी बार’ के नारे के साथ आंदोलन की चेतावनी दी हुई है।

सुरक्षा के लिहाज से मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने डीजीपी कपिल गर्ग को गुर्जर बाहुल्य क्षेत्रों में विशेष निगरानी रखने के आदेश दिए हैं और सवाई माधोपुर रेलवे ट्रैक पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था करने के लिए कहा है।

बैठक के बाद जयपुर, दौसा, करौली, भरतपुर, धौलपुर, अलवर, टोंक, सवाईमाधोपुर, कोटा, झालावाड़, बूंदी, भीलवाड़ा, अजमेर, राजसमंद जिलों एवं आस-पास के क्षेत्रों में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है।

बैंसला ने आर-पार की लड़ाई का हवाला देते हुए समाज से अधिक से अधिक संख्या में आंदोलन में शामिल होने की अपील की है।