प्रज्ञा ने कहा, ‘‘पांच अगस्त को अनुष्ठान का रामलला की आरती के साथ घरों में दीप जलाकर समापन करें।’’ श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के एक पदाधिकारी ने हाल ही में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह में भाग लेंगे।

मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट की भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने शनिवार को कोरोना वायरस महामारी से छुटकारे के लिए को अनूठा ‘मंत्र’ दिया।

ठाकुर ने लोगों से आह्वान किया है कि देश से कोरोना वायरस की महामारी को समाप्त करने के लिए वे ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ करें।

प्रज्ञा ने ट्वीट किया, ‘‘आइए हम सब मिलकर कोरोना वायरस महामारी को समाप्त करने के लिए और लोगों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिए एक आध्यात्मिक प्रयास करें।’’

उन्होंने लिखा, ‘‘25 जुलाई से 5 अगस्त तक प्रतिदिन शाम 7:00 बजे अपने घरों में हनुमान चालीसा का पांच बार पाठ करें।’’

प्रज्ञा ने कहा, ‘‘पांच अगस्त को अनुष्ठान का रामलला की आरती के साथ घरों में दीप जलाकर समापन करें।’’ श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के एक पदाधिकारी ने हाल ही में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास समारोह में भाग लेंगे।

बता दें कि बीते महीने भोपाल में बीजेपी सांसद साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की तबियत अचानक बिगड़ गई थी। इससे श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी प्रदर्शनी में मौजूद साध्‍वी प्रज्ञा अचानक से बेहोश होकर गिर पड़ी थीं। लोगों ने उन्‍हें किसी तरह से उठाकर कुर्सी पर बिठाया।

वहीं, प्रदर्शनी के शुभारंभ पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि धारा 370 खत्म करने का श्यामा प्रसाद मुखर्जी का सपना पूरा हो गया है। अब मुखर्जी के सपनों का भारत बनेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत आत्मनिर्भर बनेगा।

इससे पहले बीते 30 मई को सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर की गुमशुदगी के पोस्टर भोपाल में लगाए गए थे। इसके एक दिन बाद 31 मई को उनके दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती होने की खबर सामने आई थी।

उन्होंने वीडियो संदेश के जरिए कहा था कि उनकी हालत ठीक नहीं है। उन्हें एक आंख से दिखना बंद हो गया है। दूसरी से भी धुंधला और केवल 25 प्रतिशत दिख रहा है। साथ ही ब्रेन से लेकर रेटीना तक में सूजन और पस है।

डॉक्टरों ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर को बातचीत करने से मना किया था। भोपाल में अपने लापता होने के पोस्टर चस्पाने पर उन्होंने कहा था कि ये कांग्रेस की घृणित हरकत है। लॉकडाउन में वो जरूर दिल्ली में हैं लेकिन, उनकी पूरी टीम भोपाल संसदीय क्षेत्र में तत्पर है।