Home > Election > निकाय चुनाव : नल को दी श्रद्धांजली,कराया मुंडन

निकाय चुनाव : नल को दी श्रद्धांजली,कराया मुंडन

Municipal elections  Tributes given to public faucetखंडवा [ TNN ]  निकाय चुनाव में अब राजनीति गर्माने लगी है खंडवा में नर्मदा जल के निजीकरण का मुद्दें को लेकर विपक्ष और नर्मदा जल संघर्ष समिति भाजपा पर निशाना साधा और नगर निगम के जल विभाग का श्राद्ध कर शहर के पुराने नल को श्रद्धांजली भी दे डाली। वहीं भाजपा जनता से आव्हान फिर से सत्ता सौंपने पर नर्मदा जल के मुद्दों को सुलझाने की बात कर रही है। हालांकि कुछ दिन पहले नर्मदा जल पर अधिसूचना जारी कर उसे आनंद-फानन में वापस ले लिया गया। अब देखना यह है कि निकाय चुनाव में नर्मदा जल का मुद्दा विपक्ष को कितना फायदा पहुंचाता है।

आज खंडवा में नर्मदा जल संघर्ष समिति ने जल के निजीकरण को लेकर एक बार फिर मोर्चा खोला और नगर निगम के जल विभाग का श्राद्ध कर दिया। श्राद्ध पर बैठे संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं का कहना है किजल के निजीकरण के बाद नगर निगम के जल विभाग की मौत हो गई है। जिसके चलते वह यहां विलाप कर श्राद्ध मना रहे है। संघर्ष समिति के कार्यकर्ता मनोहर शामनानी ने आरोप लगाया कि निजीकरण के बाद खंडवा के सभी जल स्त्रोतों, नलकूपों पर निजी संस्था का कब्जा हो जायेगा और निजी संस्था ने इन जल स्त्रोतों को बंद करना भी शुरू कर दिया है।

संघर्ष समिति के सदस्यों ने श्राद्ध और मुंडन कराने के बाद आजादी के बाद खंडवा के मेडिकल चौराहे पर लगे नल को श्रद्धांजली भी दी। संघर्ष समिति के सदस्यों केसाथ मौजूद रहे। मेडिकल चौराहे पर रहने वाले एक स्थानीय नागरिक अरूण सेठी ने भी निगम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि सार्वजनिक नलों और पानी के स्त्रोतों को इस तरह से बंद करना गलत काम है। स्थानीय लोगों ने भी संघर्ष समिति के साथ वर्षों पुराने नल को श्रद्धांजली दी।

निकाय चुनाव के चलते खंडवा पहुंचे प्रदेश के नगरीय प्रशासन विकास मंत्री एवं खंडवा के प्रभारी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय भाजपा के कारकर्ता सम्मेलन में इस पूरे घटनाक्रम को सिर्फ छलावा बताया उन्होंने कहा कि यदि फिर से भाजपा की परिषद बनती है तो जो जनता चाहेगी वहीं होगा। जनता किसी के बहकावे में आकर निर्णय न करें।

रिपोर्ट :- निशात सिद्दीकी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com