Home > State > Delhi > #LoveJihad मारे गए अफराजुल की पत्नी बोली, फांसी दो

#LoveJihad मारे गए अफराजुल की पत्नी बोली, फांसी दो

नई दिल्लीः जिस हत्या की वीडियो से देश में सनसनी मच गई है। इस कत्ल के आरोपी शख्स के घर गहरा सन्नाटा पसरा हुआ है। कोई किसी से बात करने की तैयार नहीं है। आरोपी शंभू लाल रेगर की पत्नी सीता रेगर सहमी हुई नजरें झुकाई बैठी हुई है। बड़ी मिन्नतों के बाद सीता रेगर इंडियन एक्सप्रेस संवाददाता दीप मुखर्जी से बात करने को तैयार हुई।

सीता रेगर का कहना है कि उसे नहीं पता कि उसके पति ने इस वारदात को क्यों अंजाम दिया है। सीता कहती हैं, ‘ वो बेरोजगार है, ज्यादातर वक्त गांजा पीता रहता है और घुमता रहता है मैंने कभी नहीं सोचा था कि वह हत्या कर सकता है।’ शंभू लाल और उसके भतीजे को राजस्थान पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है।

ये दोनों केलवा में अपने एक रिश्तेदार के यहां ठहरे थे। सीता रेगर का दावा है कि उसके पति की दिमागी हालत ठीक नहीं है। सीता के मुताबिक शंभू लाल बुधवार सुबह को घर से बाहर निकला था उसके बाद वह नहीं लौटा। उदयपुर रेंज के आईजी आनंद श्रीवास्तव के मुताबिक प्राथमिक जांच में पता चला है कि शंभू लाल में कोई ऐसे लक्षण नहीं थे जिससे ये कहा जा सके कि वो मानसिक रूप से बीमार है। पुलिस ने सीता रेगर के उस दावे को भी गलत करार दिया है जिसमें सीता ने कहा था कि उसका पति नशे का आदी है।

तीन बच्चों के पिता शंभू लाल रेगर का एक साल पहले तक मार्बल का अच्छा खासा बिजनेस था। पुलिस के मुताबिक जब वो हत्या की वारदात को अंजाम दे रहा था उस वक्त उसका नाबालिग (14) भतीजा वीडियो बना रहा था। इधर पश्चिम बंगाल से रवीक भट्टाचार्य की रिपोर्ट के मुताबिक पीड़ित अफराजुल के घर में मातम का माहौल है।

अफराजुल पश्चिम बंगाल के मालदा जिले का रहने वाला था। लोगों को यकीन नहीं हो रहा है कि कंस्ट्रक्शन लाइन का एक अदना सा मज़दूर धार्मिक हिंसा के चपेट में आ जाएगा। अफराजुल के परिवार वालों का कहना है कि जिन्होंने उसे जानवरों की तरह मारा और इसका वीडियो वायरल किया उसे फांसी दी जानी चाहिए।

कोलकाता से 325 किलोमीटर दूर सैयदपुर गांव में अफराजुल के घर बड़ी संख्या में लोग जुटे हैं। मृतक की पत्नी गुल बहार बीबी का रो-रोकर बुरा हाल है, वो कहतीं हैं, ‘हम चाहते हैं कि जिन्होंने बेरहमी से मेरे पति का कत्ल किया है और इसे दुनिया को दिखाया है उन्हें फांसी हो, मुझे इंसाफ चाहिए।

वह सिर्फ इसलिए मारा गया क्योंकि वो एक मुस्लिम था, उस दिन लगभग दोपहर बाद 3 बजे हमें राजस्थान पुलिस से एक फोन आया और बताया गया कि मेरे पति की हत्या हो चुकी है।’ पीड़ित की बेटी रेजिना खातून ने कहा है कि उन्हें पता भी नहीं कि ये लव जिहाद क्या चीज है, उनके नाती-पोते हैं। हम लोग अपने अब्बा से रोज बात करते थे, उनलोगों ने मेरे पिता को जानवरों जैसा मारने से पहले आग लगा दिये, मैं चाहती हूं कि जिन्होंने ऐसा किया है उन्हें भी ऐसी ही सजा दी जाए।’

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com