Home > Election > मेरी लड़ाई गोगोई से नहीं गरीबी से है: पीएम मोदी

मेरी लड़ाई गोगोई से नहीं गरीबी से है: पीएम मोदी

PM Modi addresses Indian expatriates at Dubai cricket stadiumतिनसुकिया- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज असम में चुनावी बिगुल फूंक दिया। पीएम मोदी ने तिनसुकिया में रैली कर कांग्रेस पर करारे हमले बोले। मोदी ने कहा कि मुझे असम की बर्बादी के खिलाफ लड़ना है, मेरी लड़ाई गोगोई से नहीं गरीबी से है।

मोदी ने असमी भाषा में लोगों का अभिवादन किया। इसके बाद कांग्रेस पर आरोपों की झड़ी लगा दी। मोदी ने कहा, नाम तिनसुकिया है लेकिन दुखिया नज़र आता है। असम को दुखिया से सुखिया बनाना है। इस चुनाव से मुझे नुकसान है क्योंकि मुझे अपना मंत्री असम की सेवा के लिए छोड़ना पड़ेगा। असम में एक ही लहर है सर्वानंद।

असम की जनता से मोदी ने कहा कि साठ साल से कांग्रेस सरकार चला रही है, आपको क्या चाहिए एक पुल चाहिए, क्या उनको देना नहीं चाहिए था? आप सेवा का मौका दीजिए आपको अन्याय से मुक्ति दिलवाएंगे, एक बार आसाम के लोग बीजेपी की सरकार चुन कर देखें, साठ साल में जो नहीं हुआ पांच साल मे कर के दिखाएंगे। हमने सुना है कांग्रेस में पैसे खाने की आदत है, कहीं से कुछ खाने की आदत है, लेकिन मुझे मालूम नहीं था कि कांग्रेस की आदत इतने सुंदर आयलैंड को खाने की है।

जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार को काम का मौका मिला है वहां तेज प्रगति हुई है। कर्नाटक प्रगति पर है, गोवा प्रगति कर रहा है, महाराष्ट्र नई ऊंचाइयों को पार कर रहा है। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड जनजातीय इलाके सिरमौर बने हुए हैं। राजस्थान, पंजाब हरियाणा, हिमाचल में प्रगति की खबरें आती हैं। आपकी ये हालत किसने बनाई, कब तक असम कांग्रेस को झेलता रहेगा? 15 साल सरकार रही, 10 साल यहीं से प्रधानमंत्री रहे, कल्याण हुआ क्या?

मोदी ने कहा कि असम के मुख्यमंत्री 90 साल के हो जाएंगे। आप बुजुर्ग हैं, मैं आपसे छोटा हूं। बुज़ुर्गों को प्रणाम करता हूं। मेरी लड़ाई गोगोई से नही गरीबी से है। आज़ादी के वक्त असम 5 सबसे समृद्ध राज्यों में से था। आज असम 5 सबसे गरीब राज्यों में से है। असम में गरीबी, बेरोज़गारी, पिछड़ेपन का ज़िम्मेदार कौन है। मुझे 5 साल मौका दीजिए। सर्वानंद को 5 साल का मौका दीजिए। इस चुनाव के बाद असम को एक नौजवान मुख्यमंत्री मिलने वाला है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com