Home > State > Delhi > मोदी नहीं पहुँच सके बहराइच, फोन पर किया भीड़ को संबोधित

मोदी नहीं पहुँच सके बहराइच, फोन पर किया भीड़ को संबोधित

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को उत्तर प्रदेश के बहराइच में परिवर्तन रैली को संबोधित करने वाले थे लेकिन धुंध की वजह से विजिबिलिटी कम होने के चलते उनका हेलीकॉप्टर लैंड नहीं हो सका। इसके बाद पीएम वापस लखनऊ लौट गए। हालांकि उन्होंने फोन के जरिए भीड़ को संबोधित किया।

पीएम ने फोन के जरिए लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘आपने देखा होगा कि सरकार काला धन छुपाकर रखने वालों के पीछे हैं। सरकार गरीब को सशक्त करने को लेकर प्रतिबद्ध है। ‘

पीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास के लिए गरीबी और गुंडा राज को खत्म करने की जरूरत है। उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने रैली में पहुंचकर जानकारी दी कि पीएम खराब मौसम की वजह से बहराइच नहीं पहुंच सके, लेकिन वो फोन के जरिए लोगों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी की इस रैली के लिए न सिर्फ खास इंतजाम किए गए थे, बल्कि ये रैली पहली बार एयर सिक्योरिटी के साए में होने वाली थी।

पीएम मोदी 2001 के बाद तीसरी बार बहराइच आ रहे थे। 2001 में वो उस वक्त बहराइच आए थे, जब वो बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव थे। इसके बाद उन्होंने दूसरी बार नवंबर 2013 में यहां का दौरा किया।

रैली में 5 लाख लोगों के आने का दावा
इस रैली में 5 लाख लोगों की भीड़ जुटने की उम्मीद जताई जा रही थी। उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य अमौसी एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत करने वाले थे और तय कार्यक्रम के अनुसार उनके साथ लखनऊ से बहराइच तक सफर तय करना था।

आतंकियों के निशाने पर पीएम मोदी
आईबी और खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी के आतंकी संगठनों के निशाने पर होने के कारण सिक्स लेयर सुरक्षा का खाका खींचा गया है। रैली स्थल और उसके आसपास का पांच किलोमीटर का इलाका हर तरह से प्रशिक्षित कंमाडों के दायरे में होगा। इन कमांडों के पास अत्याधुनिक हथियारों के साथ खोजी कुत्ते और बम डिस्पोजल सक्वायड भी तैनात होंगे।

बहराइच के बाद कानपुर में होगी रैली
उत्तर प्रदेश में पीएम की ये पांचवी परिवर्तन रैली थी। इससे पहले वो गाजीपुर, आगरा, कुशीनगर और मुरादाबाद में भी जनसभाएं कर चुके हैं। उनकी अगली रैली 19 दिसंबर को कानपुर में होगी।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com