सिद्धू के लिए कैप्टन साहब पिता की तरह हैं: नवजोत कौर

0
17

चंडीगढ़ : अपनी पाकिस्तान यात्रा की वजह से पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू लगातार सवालों के घेरे में हैं, कैप्टन अमरिंदर सिंह के लेकर दिए गए उनके बयान की वजह से पंजाब सरकार के मंत्री ही उनके खिलाफ हो गए हैं। पंजाब कैबिनेट के तीन मंत्रियों ने तो खुले आम उनसे इस्तीफा देने की बात कही है। विरोधी दल जहां इस मामले को पूरी तरह से उछालने में लगे हैं, वहीं दूसरी ओर अब उनकी पत्नी नवजोत कौर अपने पति के बचाव में सामने आईं हैं।

मिसेज नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि सिद्धू ने हमेशा कहा है कि कैप्टन साहब उनके पिता की तरह हैं। हमने हमेशा यह साफ किया है कि कैप्टन साहब का सम्मान सबसे ऊपर है। सिद्धू का पूरा बयान देखा जाना चाहिए,अधूरा नहीं और ना ही आधे-कचरे बयान पर हल्ला मचाना चाहिए।

हालांकि खुद नवजोत कौर सवालों के घेरे में हैं, क्योंकि इंडिया टूडे में छपी खबर के मुताबिक उनका एक वीडियो सामने आया हैं, जिसमें वो भी कह रही हैं कि हम कांग्रेस के सिपाही हैं, सीएम साहब (कैप्टन अमरिंदर) के नहीं।

आपको बता दें कि यह पूरा बवाल करतारपुर गलियारे के शिलान्यास कार्यक्रम में शरीक होने के लिए सिद्धू की पाकिस्तान यात्रा से पैदा हुआ ,यह विवाद तब और गहरा गया जब हैदराबाद में सिद्धू से संवाददाताओं ने मुख्यमंत्री की मंजूरी के बगैर पाकिस्तान जाने के बारे में पूछा था, तब उन्होंने वहां कहा था कि राहुल गांधी मेरे ‘कप्तान’ हैं, उन्होंने ही मुझे पाकिस्तान भेजा, राहुल गांधी कैप्टन (अमरिंदर सिंह) के भी कैप्टन हैं, इस पर पंजाब के मंत्रियों ने कहा है कि यदि सिद्धू अमरिंदर सिंह को अपना कैप्टन नहीं समझते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री की टीम छोड़ देनी चाहिए।

हालांकि बवाल बढ़ने पर सिद्धू ने कहा कि तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश करने से पहले आप तथ्यों को सही कर लें, मुझे राहुल गांधी जी ने पाकिस्तान जाने को कभी नहीं कहा था, मैं वहां अपने दोस्त इमरान खान के न्योते पर गया था और ये बात पूरी दुनिया को पता है लेकिन उनके अपनों का गुस्सा कम होने का नाम नहीं ले रहा है।