Home > India > दि पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट व डॉ. अंबेडकर परिवार में नया विवाद

दि पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट व डॉ. अंबेडकर परिवार में नया विवाद

Ambedkar bhavana building was demolished last night Dr. Babasaheb Ambedkar's family was strongly opposed at Ambedkar Bhavan. Ambedkar's grandson Prakash Ambedkar has condemned the incident and Anandaraj visiting the area in Dadar on Saturday. Express Photo By-Ganesh Shirsekar 25/06/2016

मुंबई- महाराष्ट्र मुंबई के दादर इलाके में स्थित अंबेडकर भवन शनिवार तड़के बुल्डोजर से गिरा दिया गया। इससे क्षेत्र में तनाव पैदा हो गया। इस घटना से दि पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट व डॉ. अंबेडकर के परिवार वालों के बीच नया विवाद पैदा हो गया है।

दादर इलाके के गोकुल दास लेन पर अंबेडकर भवन व एक ऐतिहासिक प्रिटिंग प्रेस है। इन दोनों का मालिकाना हक पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के पास है। ट्रस्ट से मिली जानकारी के मुताबिक अंबेडकर भवन को जर्जर इमारत घोषित करते हुए मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने ट्रस्ट को नोटिस जारी की थी।


  बीएमसी अधिकारियों का कहना है कि तीस दिन के अंदर खतरनाक निर्माण कार्य को हटाना जरूरी था। इसलिए भवन को खाली कराकर उसे गिराया गया है। डॉ. भीमराव अंबेडकर के पोते प्रकाश व आनंद राज ने दादर पहुंच कर ट्रस्ट की ओर से कि गई तोड़फोड़ की कार्रवाई के खिलाफ विरोध व्यक्त किया।

ट्रस्ट के मुताबिक अब यहां पर सारी सुविधाओं से लैस 17 मंजिला अंबेडकर भवन बनाया जाएगा। भवन का निर्माण कार्य जल्द शुरू होगा। इस बीच डा. अंबेडकर के परिवार वालों ने इस पूरे मामले पर ऐतराज जताया है। अंबेडकर के दोनों पोतो ने अंबेडकर भवन गिराने के लिए ट्रस्ट की ओर से उठाए गए कदम की कड़ी निंदा की है। हिंद माता इलाके में प्रकाश अंबेडकर के समर्थकों ने रास्ता रोको आंदोलन भी किया। इसके चलते वहां पर तनाव का माहौल बन गया है।बई के दादर इलाके में स्थित अंबेडकर भवन शनिवार तड़के बुल्डोजर से गिरा दिया गया। इससे क्षेत्र में तनाव पैदा हो गया। इस घटना से दि पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट व डा. अंबेडकर के परिवार वालों के बीच नया विवाद पैदा हो गया है।

दादर इलाके के गोकुल दास लेन पर अंबेडकर भवन व एक ऐतिहासिक प्रिटिंग प्रेस है। इन दोनों का मालिकाना हक पीपुल्स इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के पास है। ट्रस्ट से मिली जानकारी के मुताबिक अंबेडकर भवन को जर्जर इमारत घोषित करते हुए मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने ट्रस्ट को नोटिस जारी की थी।

बीएमसी अधिकारियों का कहना है कि तीस दिन के अंदर खतरनाक निर्माण कार्य को हटाना जरूरी था। इसलिए भवन को खाली कराकर उसे गिराया गया है। डॉ. भीमराव अंबेडकर के पोते प्रकाश व आनंद राज ने दादर पहुंच कर ट्रस्ट की ओर से कि गई तोड़फोड़ की कार्रवाई के खिलाफ विरोध व्यक्त किया।

ट्रस्ट के मुताबिक अब यहां पर सारी सुविधाओं से लैस 17 मंजिला अंबेडकर भवन बनाया जाएगा। भवन का निर्माण कार्य जल्द शुरू होगा। इस बीच डा. अंबेडकर के परिवार वालों ने इस पूरे मामले पर ऐतराज जताया है। अंबेडकर के दोनों पोतो ने अंबेडकर भवन गिराने के लिए ट्रस्ट की ओर से उठाए गए कदम की कड़ी निंदा की है। हिंद माता इलाके में प्रकाश अंबेडकर के समर्थकों ने रास्ता रोको आंदोलन भी किया। इसके चलते वहां पर तनाव का माहौल बन गया है।


Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com