Home > State > Delhi > मोदी सरकार के मंत्री पर लगा फर्जी मार्कशीट का आरोप

मोदी सरकार के मंत्री पर लगा फर्जी मार्कशीट का आरोप

Junior HRD minister Ram Shankar Katheria in fake marksheet row

नई दिल्ली [ TNN ] बीते रविवार को कैबिनेट के पहले विस्तार में केंद्रीय मंत्री बने रामशंकर कठेरिया आरोपों में घिर गए हैं। उन पर अपनी ग्रेजुएट की मार्कशीट फर्जी तरीके से बनवाने का आरोप लगा है।

2010 में कठेरिया के विरोधी बसपा उम्मीदवार ने उनके खिलाफ जालसाजी और बेइमानी की शिकायत दर्ज कराई थी। विरोधी ने आरोप लगाया था कि आगरा विश्वविद्यालय में नौकरी पाने के लिए कठेरिया ने अपनी बीए द्वितीय वर्ष और एमए अंतिम वर्ष के अंकपत्र में जालसाजी की थी।

यह मामला हाईकोर्ट ने आगरा की सेंशन कोर्ट को सौंपा है, जिस पर 26 नवंबर को सुनवाई होनी है। यदि वे दोषी पाए गए, तो उन्हें सात साल की सजा हो सकती है।

हालांकि कठेरिया ने इस मामले को राजीनतिक और बोगस बताया है। उन्होंने राज्य के शिक्षा विभाग की जांच में क्लीन चिट मिलने का भी दावा भी किया। साथ ही कहा कि मेरे विपक्षी ने मुझ पर हर दिन चार केस कराए, पर वे एक भी साबित नहीं कर पाए।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कठेरिया पर मार्क्सशीट में दो बार फर्जीवाड़ा करने का आरोप है। साहित्यिक लेखन के सिद्धांत विषय में उन्हें 38 अंक मिले था, लेकिन उनके कथित फर्जी अंकपत्र में 72 अंक दर्शाए गए। बीए द्वितीय वर्ष के अंकपत्र में हिन्दी साहित्य के पेपर में जहां उन्हें 43 अंक मिले थे, वहीं फर्जी बताई जा रही मार्क्सशीट में 53 अंक दर्ज हैं। साथ ही इसी तरह अंग्रेजी में भी नकली अंकपत्र में 52 नंबर मिले दिखाए गए हैं, जबकि बताया गया कि उन्हें वास्तव में 42 नंबर ही मिले थे। कठेरिया पर 23 मामलों का आरोप होने बात पहले ही सामने आई थी।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com