मध्य प्रदेश : नई गाइडलाइन जारी, ये होंगे नए प्रतिबंध

सरकार ने प्रतिमा बनाने वालों को भी निर्देश जारी करते हुए कहा है कि इस बार सिर्फ छोटी-छोटी प्रतिमाएं ही बनाएं, ताकि लोग घरों में ही उन्हें स्थापित कर सकें।

भोपाल : तमाम कोशिशों के बाद भी फिलहाल कोरोना से राहत मिलती नहीं दिख रही है। कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार कुछ नए प्रतिबंध लागू करने जा रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कोरोना पर समीक्षा बैठक कर नई गाइडलाइन जारी करने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए उत्सवों पर सार्वजनिक झाकियां नहीं लगाई जाएंगी।

धार्मिक स्थलों एवं पूजास्थलों पर एक बार में 5 से अधिक लोग इकट्ठे नहीं होंगे। शादी, सगाई जैसे समारोहों में दोनों पक्षों की ओर से 10-10 लोग से अधिक शामिल नहीं होंगे। जन्मदिन समारोह में भी 10 से अधिक लोग हिस्सा नहीं लेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का सख्ती से पालन कराने और किल कोरोना अभियान प्रभावी तौर पर चलाने के भी निर्देश दिए हैं।

सीएम ने अधिकारियों को ताकीद की है कि कोरोना नियंत्रण की कोशिशों में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

आने वाला वक्त त्योहारों का है। लिहाजा सरकार की ओर से ये भी अपील की गई है कि त्योहार मनाने के लिए लोग घरों से बाहर नहीं निकलेंगे। घर में ही त्योहार मनाएंगे। सार्वजनिक स्थलों पर प्रतिमा स्थापित करने, त्योहार मनाने की अनुमति नहीं होगी।

आने वाले वक्त में गणेश चतुर्थी और बकरीद के अवसर पर भी लोगों को घर पर रह कर ही त्योहार मनाने के लिए कहा गया है। गणेश प्रतिमाओं के सार्वजनिक जगहों पर रखने पर प्रतिबंध रहेगा।

सरकार ने प्रतिमा बनाने वालों को भी निर्देश जारी करते हुए कहा है कि इस बार सिर्फ छोटी-छोटी प्रतिमाएं ही बनाएं, ताकि लोग घरों में ही उन्हें स्थापित कर सकें।

जबलपुर जिले की समीक्षा में पाया गया कि पिछले एक हफ्ते में वहां संक्रमण बढ़े हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि जिला आपदा प्रबंधन समूह के निर्णय अनुसार जिन कॉलोनी, मोहल्लों में अधिक मामले सामने आ रहे हैं, वहां लॉकडाउन किया जा सकता है। जनरल लॉकडाउन नहीं किया जाए।

जनरल लॉकडाउन सप्ताह में एक ही दिन रविवार को हो। ग्वालियर और मुरैना जिले में भी कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए कुछ और प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।